Phone kho gaya hai to aise khoje

सवाल पूछें
सेल फोन चोरी हो जाए या खो जाए तो बहुत परेशानी होती है. लेकिन ऐसी स्थिति के लिए यदि पहले से तैयारी कर ली जाए तो इस समस्या से निपटना बहुत आसान हो जाता है. इस ट्यूटोरियल में हम आज आपको कई ऐसे तरीके बताने वाले हैं जो आपके सेल फोन के चोरी होने या खो जाने पर कारगर साबित होंगे.

ध्यान रखें. आपका सेल इससे पहले कि फोन खो जाए या चोरी हो जाए, इन प्रोग्राम्स को अपने डिवाइस में डाउनलोड करना अनिवार्य है.

iOS वाले iPad और iPhone

यदि आपके पास ऐप्पल का स्मार्टफोन है तो Find My iPhone टूल की मदद से आप अपने iPhone, iPod, iPad, या Macbook को लोकेट कर सकते हैं. ऐसा करने में आपको दूसरे आईओएस डिवाइस की मदद लेनी होगी.

गायब हुए दूसरे आईओएस डिवाइस को खोजने के अन्य तरीकों में Undercover भी शामिल है.

एंड्रॉयड फोन

यदि आपका फोन एक एंड्रॉयड है तो इसे चोरी होने, गुम होने पर Wave Secure or Prey की मदद लेने की कोशिश करें. किसी भी Sony Xperia स्मार्टफोन को ढूंढ़ने के लिए My Experia को ट्राई कीजिए.

यदि फोन सैमसंग का है तो आप सैमसंग के Find My Mobile फीचर का इस्तेमाल करें.

सिम्बियन फोन

यदि आपका Symbian डिवाइस खो गया है तो इस डिवाइस को लोकेट करने में मुश्किल हो सकती है. क्योंकि अब ऐसे फोन नहीं बनते. अपने फोन ऑपरेटर को कॉल कीजिए, वो शायद आपकी मदद करे.

RIM वाले ब्लैकबेरी फोन

ब्लैकबेरी प्रोटेक्ट एक टूल है जो आपके BlackBerry फोन को खोजने में मदद करता है. यही नहीं, यह फोन में मौजूद आपकी जानकारियों (जैसे कि आपका फोन लॉक करता है, सारी जानकारियों को मिटा देता है, वगैरह) को सेक्योर करने के लिए रीमोट एक्शन परफॉर्म करता है. ब्लैकबेरी प्रोटेक्ट फीचर आपके BlackBerry 10 स्मार्टफोन के ऑपरेटिंग सिस्टम में पहले से मौजूद होता है. आपको बस ये ऐप्लिकेशन डाउनलोड करना है, ये फ्री है.

विंडोज फोन

माइक्रोसॉफ्ट ने अपने Microsoft provides a free phone locating service on its ऑफिशियल वेबसाइट पर फ्री फोन लोकेटिंग सर्विस की सुविधा अपने यूजर्स के लिए दे रखी है. इस सर्विस का इस्तेमाल करें और यह आपके फोन को रीमोट तरीके से सुरक्षित रखेगा. मानचित्र पर आपके फोन का पता भी लगा लेगा, डिवाइस लॉक करेगा और फोन मे सेव की गई सारी जानकारियों को मिटा देगा.

AT&T, Verizon, T-Mobile, या Sprint Subscribers

अमेरिका में चौथे सबसे ज्यादा इस्तेमाल करने वाले सब्सक्राइबर AT&T, Verizon, T-Mobile, और Sprint के सब्सक्राइबर्स हैं. अफसोस कि ये कंपनियां फोन का पता लगाने वाली कोई भी सर्विस ऑफर नहीं करतीं. जबकि इनमें से अधिकांश डिवाइसेज मे पहले से इसके लिए फीचर मौजूद होते हैं.


हालांकि यदि आप बेसिक फोन को लोकेट करने की कोशिश कर रहे हैं और आप स्प्रिंट यूजर हैं तो कंपनी की Family Locator सर्विस आपकी मदद कर सकती है.

एंटीवायरस प्रोग्राम की मदद

कुछ एंटीवायरस प्रोग्राम ऐसे हैं जो आपके फोन को वायरस से बचाने के अलावा भी काफी कुछ करते हैं. यदि आपने सही प्रोग्राम चुना है तो आप अपना खोया हुआ फोन भी खोज सकते हैं. दूर से उस फोन की जरूरी जानकारियां हटा सकते हैं और फोन को लॉक भी कर सकते हैं ताकि कोई नया सिम कार्ड ना इस्तेमाल करे.


ऐसा ही एक प्रोग्राम Anti-Theft by F Secure है. ये फ्री सॉफ्टवेयर है. इससे आप दूर से अपना फोन लॉक करने, डाटा डिलीट करने फोन में नया सिम कार्ड डाले जाने पर उसका नंबर रिट्रीव करने जैसे कई जरूरी काम कर सकते हैं. ये एंड्रॉयड, सिम्बियन और विंडोज फोन पर काम करता है.

ऐसे ही फीचर वाला एक और प्रोग्राम है, इसका नाम Trend Micro Titanium Maximum Security है. इसका सब्सक्रिप्शन लेने पर फोन खो जाने की स्थिति में आप अपने डेटा को स्मार्टफोन से हटा सकते हैं.

अंत में Kaspersky Anti-Virus ऐसा प्रोग्राम है जो आपके फोन को दूर से लॉक करता है. फिर आपको प्रीडिटर्मिंड मैसेज भी भेजता है. आप भी अपने डेटा को दूर से डिलीट कर सकते हैं.

गुम हुए फोन को साइलेंट या वाइब्रेट रिंग पर डालिए

क्या आपको लगता है कि आपका फोन आस पास ही कहीं है और आपको मिल नहीं रहा. तो आप उसे दूर से ही साइलेंट कर सकते हैं या वाइब्रेट मोड में ला सकते हैं. भले आपने पहले से इसे साइलेंट या वाइब्रेट कर रखा हो.


ब्लैकबेरी फोन में BlackBerry Protect service को इस्तेमाल करें. ऐप्पल फोन है तो Find My iPhone की मदद लें. विंडो फोन है तो माइक्रोसॉफ्ट की वेबसाइट पर मौजूद Find My Phone ऑप्शन की मदद लें. और यदि फोन एंड्रॉयड है तो एंड्रॉयड बिल्ट-इन Device Management service या Dring Contact जैसी थर्ड पार्टी सर्विस की मदद लीजिए.

खोए, चुरा लिए गए फोन के लिए इंश्योरेंस प्लान

फोन खो जाने या चुरा लिए जाने जैसे हादसों के लिए भी आप इंश्योरेंस का सहारा ले सकते हैं. ऐसा कोई प्लान लेते समय कॉन्ट्रैक्ट को ध्यान से पढ़ लें और देख लें कि किस तरह की चीजों को प्लान में कवर किया गया है. खासतौर से ये देखें कि किन चीजों को प्लान कवर नहीं करता. कुछ इंश्योरेंस प्लान कैमरा और कंप्यूटर जैसे डिवाइसेज को भी कवर करते हैं.


Image: © Green Cyber Advance - Shutterstock.com