Secure Password kaise choose kare

सवाल पूछें
आज इस डिजिटल युग में हमें कई कामों के लिए पासवर्ड की जरूरत पड़ती है. अब चाहे वो ईमेल हो, सोशल नेटवर्क अकाउंट, मैसेजिंग ऐप, क्लाउड में स्टोर की गई फाइल हो या बिल चुकाने वाले प्लेटफार्म. ऐसे में इतने कामों के लिए अलग-अलग बनाए गए पासवर्ड को याद रखना बहुत मुश्किल काम है. इसीलिए कई लोग एक आसान पासवर्ड बनाते हैं और उसे ही हर जगह हर समय इस्तेमाल करते हैं.

भले ऐसा करने से आपको मेहनत से छुटकारा मिल जाता हो, लेकिन इससे आप हैकर्स को मौका दे रहे हैं कि वो आपकी जानकारियां चुरा लें. आज अगर कोई नए हैकिंग टूल्स इस्तेमाल करे तो वो किसी साइट के आपके आपके पासवर्ड को जान सकता है. और जबकि आपने इसी पासवर्ड को हर जगह इस्तेमाल कर रखा है तो आपकी पहचान के चुरा लिए जाने का खतरा बढ़ जाता है.


यहां यह भी याद रखना जरूरी है कि भले आसानी से याद रखने वाला पासवर्ड आपके रोज के लॉग-इन को आसान बनाता हो, पर ये उन हैकरों का काम आसान बनाता है जिनकी नजर आपकी कीमती और निजी जानकारियों पर है. यही नहीं, पासवर्ड सेविंग जितने भी सॉफ्टवेयर और ब्राउजर हैं जो आपका पासवर्ड सेव करके रखते हैं वे सारे हैक किए जा सकते हैं. पासवर्ड सुरक्षित करने का ये तरीका भी खतरे से खाली नहीं है.


आज हम आपको ऐसा पासवर्ड तैयार करना सिखाएंगे जो सुरक्षित हो और जिसे हैक नहीं किया जा सके.


एक अच्छा पासवर्ड कैसा होता है

एक अच्छा पासवर्ड वही होता है जो सुरक्षित हो, जिसके हैकिंग का खतरा न हो. जानकारों का सुझाव है कि पासवर्ड ऐसा हो जो लंबाई, भिन्नता और जटिलता के न्यूनतम मानदंडों को पूरा करता हो.

पासवर्ड की न्यूनतम लंबाई

आपके डाटा की सुरक्षा की चिंता करने वाले अधिकतर प्रोग्राम इस बात कि सलाह देते हैं कि आप 8 कैरेक्टर से अधिक लंबा पासवर्ड बनाने के विशेषज्ञों के सुझाव को फॉलो करें. यानी आपका पासवर्ड 8 कैरेक्टर का या इससे बड़ा हो.

पासवर्ड की भिन्नता

इस बात पर भी जोर दिया गया है कि आपके पासवर्ड में कई तरह के कैरेक्टर होने चाहिए. इसमें अपरकेस और लोअरकेस लेटर के साथ ही साथ, लेटर, नंबर और सिम्बल हों.


ध्यान दें. कुछ सर्विसेज ऐसी हैं जो आपके पासवर्ड में कुछ कैरेक्टर के इस्तेमाल से रोकती हैं. ये जानकारी आमतौर पर आपको पासवर्ड तैयार करते समय पॉप-अप बॉक्स के जरिए दी जाती है. और ये पॉप-अप बॉक्स आपको उस साइट पर पासवर्ड तैयार करते समय दिखाई देता है जो साइट इस नियम का पालन करती है.

कई वेबसाइट इस बात की भी सिफारिश करती हैं कि यदि आप अपना पासवर्ड भूल गए हैं, या आप इसे फिर से तैयार करना चाहते हैं तो आप वैसा पासवर्ड चुनिए जिसे आपने पहले इस्तेमाल नहीं किया हो. या कम से कम बहुत लंबे समय तक इस्तेमाल किया गया पासवर्ड मत चुनिए. कुछ वेबसाइट तो आपको ऐसा करने से रोक देती हैं.

मजबूत पासवर्ड कैसे तैयार करें

मजबूत पासवर्ड तैयार करने का एक तरीका ये है कि आप वैसा कोई वाक्य चुनें जो आपके लिए और सिर्फ आपके लिए याद रखना बहुत आसान हो. अब हर लेटर के पहले वर्ड को रखिए और दूसरे वर्ड को डिलीट कर दीजिए. उदाहरण के लिए, यदि आपने ये वाक्य चुना कि "The pen is mightier than the sword", तो आपका पासवर्ड Tpimtts होगा.

इसके बाद आप इसमें कुछ नंबर और खास कैरेक्टर्स ऐड कर दीजिए. इस उदाहरण में, आप कुछ ऐसा ऐड कीजिए कि ये Tpimtts7%3 बन जाए.

ऐसा करने से पासवर्ड लंबाई और भिन्नता दोनों स्तर पर सही होगा. ऐसा करने से आपके पासवर्ड को हैक करना बहुत मुश्किल हो जाएगा.

हर वेबसाइट के लिए अलग अलग पासवर्ड चुनिए

आपको कभी भी अलग अलग वेबसाइट के लिए एक ही पासवर्ड का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. ऊपर बताए गए तरीके की मदद से आप ऐसा पासवर्ड भी तैयार कर सकते हैं जो उस खास वेबसाइट से जुड़ा हुआ हो. इससे आपको कई सारे पासवर्ड को मानसिक रूप से याद रखने में सहूलियत होगी. और आप इन्हें आपस में मिलाएंगे नहीं.

जैसे कि यदि फोटो शेयरिंग वेबसाइट है तो "I love my Canon EOS 300D" बदलकर IlmCE3 बन जाएगा.

सिंगल साइन-इन सॉल्यूशन

इन सबके लिए सिंगल साइन-इन सॉल्यूशन का भी इस्तेमाल किया जा सकता है. आप OpenID से अच्छी तरह वाकिफ होंगे. यह ऐसी सर्विस है जो उन सभी वेबसाइटों को एक्सेस करने के लिए लॉग-इन क्रिडेंशियल का सिंगल सेट मुहैया कराती है जो OpenID login की इजाजत देता है. (आप ऐसी साइटों की पूरी लिस्ट official OpenID वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं.)

इन साइटों में से किसी एक पर आप अपना अकाउंट बनाइए. इसके बाद आप उन सभी दूसरी सर्विसेज में ऑटोमैटिक लॉग-इन कर सकते हैं जो OpenID स्टैंडर्ड का इस्तेमाल करती हैं.

Image: © LynxVector - Shutterstock.com
Jean-François Pillou

जीन फ़्रांसवा पिलाओ - संस्थापक, CCM
जीन फ़्रांसवा पिलाओ को हमारी टीम जेफ नाम से जानती है. उन्होंने फ्रांस की नंबर वन हाईटेक साइट CommentCaMarche.net की शुरुआत की. जेफ सीसीएम बेंचमार्क ग्रुप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी होने के साथ फिगरो ग्रुप के डिजिटल डायरेक्टर भी हैं.

CCM टीम के बारे में और जानिए