CPU ko overheating se kaise bachayein

सवाल पूछें
CPU के तापमान का बढ़ना या ओवरहीट होना आपके सिस्टम के लिए अच्छा नही है. ऐसा होने से प्रोसेसर खराब हो सकता है और सिस्टम के हार्डवेयर में भी गड़बड़ी पैदा हो सकती है.

प्रोसेसर का तापमान सही-सही क्या हो ये पीसी के ब्रांड और मॉडल पर निर्भर करता है. इन सारी बातों की जानकारी आपको होनी चाहिए ताकि आप किसी भी समस्या से बच सकें. ऐसा BIOS सेटअप को एक्सेस करके या CoreTemp जैसे सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करके किया जा सकता है.

यदि आपका CPU बहुत गर्म हो रहा है तो इस ट्यूटोरियल की मदद से आप इसे ठीक कर सकते हैं. हम यहां इसके लिए कुछ उपाय बता रहे हैं.


अपने प्रोसेसर का तापमान कैसे जांचे

CPU के तापमान की जांच करने के कई तरीके हैं. आप इसके लिए CPUID HWmonitor और CoreTemp जैसे सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करते हुए BIOS सेटअप को एक्सेस कर सकते हैं. या आप सीपीयू की जांच कर सकते हैं.

टेम्परेचर वैल्यू

जब CPU के टेम्परेचर की बात आती है, तो हमारा मतलब या तो Junction Temperature (यानी internal temperature), या T Case (यानी chassis temperature) होता है. T Case हमेशा Junction temperature से 10 से 20 डिग्री कम गर्म होता है.

Intel प्रोसेसर्स

Intel processor का अधिकतम तापमान कैसा हो ये इसके मॉडल पर निर्भर करता है. लेकिन आमतौर पर यह Pentium 4 के लिए 60 से 65° C, Core मॉडल्स में 50 to 65° C, और Nehalem generation (यानी i3/i5/i7) में 70° C रहता है. लैपटॉप का प्रोसेसर्स 100° C तक झेल जाता है. .


ये जानने के लिए आप इंटेल प्रोसेसर टेम्परेचर पर बार-बार पूछे गए सवाल पर तैयार किए गए आर्टिकल साथ ही, इसके प्रोसेसर के लिए प्रोडक्ट पेज को देख सकते हैं. आप पाएंगे कि टी-केस अलग अलग मॉडल के बीच बदलता रहता है. उदाहरण के लिए i5 M-5Y71 के लिए टी-केस (पहले इसे ब्रॉडवेल के रूप में जाना जाता था) 95 डिग्री सें. होता है जबकि 8वें जेनरेशन का i9-8950HK 100 डिग्री सें. तक के तापमान को झेल सकता है.

तापमान यदि इससे ज्यादा जाए तो सिस्टम का थर्मल प्रोटेक्शन पावर इस पर लगाम लगाता है और प्रोसेसर के तापमान को न्यूनतम डिग्री तक ले आता है. और यदि किन्ही वजहों से तापमान फिर से बढ़ जाता है तो CPU अपने आप बंद हो जाता है. इसका मतलब ये है कि लेटेस्ट प्रोसेसर्स में थर्मल से जुड़ा कोई नुकसान नहीं होगा

AMD प्रोसेसर्स

AMD प्रोसेसर का अधिकतम ऑपरेटिंग तापमान प्रोसेसर के ट्रेड रेफरेंस (OPN) पर निर्भर करता है. यह प्रोसेसर के ऊपर हे होता है और OCN के दाहिनी तरफ से तीसरा कैरेक्टर ही तापमान की जानकारी देता है.


ये तापमान भी विभिन्न मॉडलों के अनुसार बदलता रहता है. उदाहरण के लिए, FX प्रोसेसर्स के लिए, अधिकतम तापमान 61 डिग्री जबकि Ryzen प्रोसेसर्स का तापमान 95 डिग्री सें. तक जा सकता है.

लैपटॉप कंप्यूटर्स में सीपीयू को ओवरहीटिंग से कैसे बचाएं

यदि आपका लैपटॉप ओवरहीट कर रहा है तो प्लीज इस आर्टिकल को पढ़िए और क्या दिक्कत है इसका पता लगाइए.

सीपीयू के तापमान को कैसे रेगुलेट करें

ऐसे कई तरीके हैं जिनकी मदद से आप अपने सीपीयू को ओवरहीट होने से बचा सकते हैं.


यदि हवा का प्रवाह सही हो तो CPU को ओवरहीट होने से बचाया जा सकता है. आपको इसके लिए आसपास के केबल और हार्डवेयर को पहचानना होगा और उनकी स्थिति ठीक करनी होगी ताकि हवा पर्याप्त मात्रा में आती-जाती रहे. इसके अलावा हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि बाहर की ताजी हवा सीधा सीपीयू, ग्राफिक्स कार्ड आदि हार्डवेयर तक पहुंचे क्योंकि ये बहुत गर्म रहते हैं. और साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि इनसे निकलने वाली गर्म हवा सीधा बाहर निकले.

इसके अलावा आप ये भी कर सकते हैं कि ऐसा सीपीयू केस का इस्तेमाल करें जो अपना पावर ऊपर से लेता हो, और इसमें बायीं ओर लैटर्नल फैन हो:


एक और उपाय ये है कि ऐसा सीपीयू केस का प्रयोग किया जाए जो तापमान बढ़ने पर अपना पावर नीचे से लेता हो:


कुछ ऐड-ऑन बड़े मददगार साबित होते हैं. इसमें Ventirad (यानी हीट सिंक + फैन) और सीपीयू आईडल जैसे सॉफ्टवेयर शामिल होते हैं. आप यह भी चाहेंगे कि इनपर जमी हुई धूल भी समय समय पर आप हटाते रहें. इसके लिए आप सिस्टम में हीट सिंक फैन जोड़ सकते हैं.

एक आखिरी टेक्नीक ये है कि आप लिक्विड कूलिंग सिस्टम का इस्तेमाल करना शुरू कर दें. हालांकि ये काफी महंगा तरीका है, और साथ ही थोड़ा जटिल भी. इसलिए इसे चुनते समय एक बार सोच लें.

Image: © aleksanderdn - 123RF.com

ओरिजिनल आर्टिकल jak58 ने पब्लिश किया. Swarnkanta ने अनुवाद किया. ताजा अपडेट: 3 मई, 2018 - 11:29 अपराह्न पर Swarnkanta ने किया.

CCM (https://in.ccm.net/) पर उपलब्ध यह डॉक्युमेंट "CPU को ओवरहिटिंग से कैसे बचाएं " क्रिएटिव कॉमन लाइसेंस के तहत उपलब्ध कराया गया है. जैसा कि इस नोट में साफ जाहिर है, आप इस पन्ने को लाइसेंस के तहत दी गई शर्तों के मुताबिक संशोधित और कॉपी कर सकते हैं.