0
धन्यवाद

आभार प्रकट करने के लिए कहे गए थोड़े शब्द काफी सराहनीय होंगे.

Social Media ki madad se candidates recruit kaise karein

सोशल नेटवर्किंग के जरिए एक आदर्श उम्मीदवार कैसे मिल सकता है? ब्रांड की छवि की इसमें क्या भूमिका होती है? समय बीतने के साथ, वर्किंग वर्ल्ड के डिजिटलाइजेशन ने नौकरियों की भर्ती पर भी असर डाला है. कहा जा सकता है कि फिलहाल हम “सोशल रिक्रूटिंग” के दौर में जी रहे हैं. किसी पद या नौकरी के लिए प्रतिभाशाली व्यक्ति चाहिए, तो हम सबसे पहले सोशल नेटवर्क्स खंगालते हैं. क्योंकि ये
कीमती जानकारियों का माध्यम बन गया है. रिक्रूटर्स और उम्मीदवार दोनों के लिए आज सोशल नेटवर्क पर सबसे अधिक अवसर उपलब्ध हैं. आइए जानते हैं कि सोशल नेटवर्क के माध्यम से उम्मीदवारों को कैसे भर्ती किया जाता है और इसके लिए किन अहम बातों पर विचार किया जाना चाहिए.



सोशल रिक्रूटिंग क्या है?

सोशल रिक्रूटिंग का मतलब सोशल मीडिया के जरिए प्रतिभाशाली उम्मीदवार की भर्ती करना और रिक्रूटर्स और उम्मीदवार के बीच संवाद कायम करना है. इस तरह लिंक्डइन, फेसबुक, ट्विटर या इंस्टाग्राम जैसे प्लेटफार्म को इच्छुक पार्टीज को आपस में कनेक्ट करने वाले चैनल के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है.

सोशल नेटवर्क पर ब्रांड की छवि

सोशल नेटवर्क पर मौजूदगी भर्ती के लिए अनिवार्य जरूरत बन गई है. इससे दोनों कंपनियों के लिए ब्रांड ईमेज और उम्मीदवार के लिए पर्सनल ब्रांड बनाने का मौका मिलता है.

एक तरफ 81% संगठन उम्मीदवार को चुनने का फैसला (कनेक्टेड टैलेंट ऑफ इनफोएमप्लियो और EY फर्म की प्रोफेशनल सर्विस की साल 2019 की रिपोर्ट के अनुसार) करने से पहले उसका सोशल नेटवर्क देखते हैं. डिजिटल रणनीति के जानकार, क्रिस्टोफ गिनिस्टी के मुताबिक, सोशल नेटवर्क से अधिक बेहतर ऐप्लिकेंट प्रोफाइल तैयार करने का मौका मिलता है. उम्मीदवार को अकादमिक डिग्री और डिप्लोमा जैसे चयन मानदंडों से ऊपर जाकर उनके मानवीय पहलू और शख्सियत के आधार पर जान सकते हैं.

दूसरी ओर, किसी भी सोशल नेटवर्क में कंपनी के पब्लिकेशंस, इंटरैक्शंस और कम्यूनिकेशन से नियोक्ता की छवि बनने में मदद मिलती है. इसलिए जरूरी है कि अलग अलग प्लेटफार्म के प्रोफाइल्स में संगठन की अच्छी बातों को सामने लाया जाए .


सोशल रिक्रूटिंग के फायदे

  • अधिक उम्मीदवारों तक पहुंच: किसी जॉब ऑफर या नौकरी की पेशकश अधिक उम्मीदवारों तक पहुंचती है, क्योंकि उन्हें सोशल नेटवर्क पर व्यापक स्तर पर शेयर किया जाता है. इसके अलावा, इससे नियोक्ता या रिक्रूटर्स वैसे उम्मीदवारों का भी ध्यान अपनी ओर खींचने में कामयाब रहते हैं जो नौकरी की तलाश में तो नहीं होते, मगर प्रोफाइल में फिट होते हैं).
  • समय और पैसे की बचत : हालांकि पब्लिश होने वाले ऑफर्स आमतौर पर फ्री होते हैं. उम्मीदवार के सोशल नेटवर्क को एक्सेस कर ये प्रक्रिया आगे बढ़ती है. यहां उम्मीदवारों से उनके सोशल नेटवर्क के जरिए सीधा संपर्क करना संभव हो जाता है.
  • उम्मीदवार के बारे में अतिरिक्त जानकारी मिलना : प्रोफेशनल सोशल मीडिया के जरिए उम्मीदवार से संवाद करना संभव होने के कारण, कई नियोक्ता पर्सनल प्रोफाइल देखना पसंद करते हैं. उम्मीदवार के पोस्ट, फोटोज या कमेंट से वो संभावित उम्मीदवार के बारे में अधिक और गहरी जानकारी हासिल करते हैं.
  • सेगमेंट सर्च: इस्तेमाल होने वाले सोशल नेटवर्क या वेबसाइट के आधार पर, प्रोफाइल्स को प्रोफेशनल सेक्टर, अनुभव, लोकेशन वगैरह के जरिए फिल्टर किया जा सकता है.

प्लेटफार्म्स

सोशल नेटवर्क पर बढिया उम्मीदवार खोजने के लिए कंपनी के पास उसी प्लेटफार्म पर एक नियमित प्रोफाइल होना जरूरी है. यहां वे भर्ती की रणनीति (जॉ़ब ऑफर का पब्लिकेशन, उम्मीदवार से संवाद, प्रोफाइल सर्च, वगैरह.) बनाएं और मनचाहे प्रोफेशनल प्रोफाइल को परिभाषित करते हुए के साथ शुरुआत करें:

Correctly Write The Job Offer

सबसे पहले कंपनी की पूरी जानकारी, वेबसाइट का लिंक, एक्टिविटी सेक्टर, नौकरी का ब्योरा, कॉन्ट्रैक्ट का प्रकार और अवधि (स्थायी या अस्थायी), काम की जगह और घंटे, काम शुरू करने की तारीख और अपेक्षित वेतन वगैरह शामिल करें.

नोट: कंपनी की वेबसाइट पर ऐड में एक लिंक शामिल करने से पक्का हो जाएगा कि संभावित उम्मीदवार अपनी प्रोफाइल के हिसाब से उपयुक्त ऑफर खोज लेगा.

यहां हम बताएंगे कि उम्मीदवार चुनने के लिए एचआर प्रोफेशनल्स किन सोशल और प्रोफेशनल नेटवर्क का इस्तेमाल करते हैं:

LinkedIn



ऑनलाइन नौकरियों की भर्ती के लिए LinkedIn सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला सोशल प्लेटफार्म है. दुनिया भर में इसके 69 करोड़ यूजर्स हैं. इस प्रोफेशनल सोशल नेटवर्क में, कंपनियां अपने यहां मौजूद नौकरियों का विज्ञापन पोस्ट कर सकती हैं. यहां वे अपने प्रोफाइल की मदद से अपने ब्रांड की छवि मजबूत कर सकती हैं. इसी तरह, मानव संसाधन पेशेवर के पास ये समाधान हैं:

  • लिंक्डइन जॉब्स: यहां आप वैसे विज्ञापन पोस्ट कर सकते हैं जो संभावित उम्मीदवारों तक पहुंचते हैं. इन्हें प्रोफेशनल कम्यूनिटीज भी शेयर कर सकती है. ये विज्ञापन जॉब पेज पर फिर से ग्रुप किए जाते हैं. इसके अलावा, यहां रियल टाइम में पब्लिकेश के बाद जॉब डिस्क्रिप्शन लिखना, ऐड को प्रोमोट करना और रेस्पॉन्स का मूल्यांकन करना संभव है.
  • लिंक्डइन रिक्रूटर्स : अगर कॉन्टैक्ट्स कॉमन हो, ये टूल आपको लिंक्डइन डेटाबेस, फिल्टर सर्चेज, पूरी प्रोफाइल का व्यू का एक्सेस और InMail (मैसेजिंग का भीतरी सिस्टम) के जरिए संभावित एक्टिव और पैसिव कैंडिडेट से संपर्क का मौका देता है. वरना आप अपने ऑनलाइन curriculum vitae में एक लिंक में अपना पर्सनल डेटा जोड़ सकते हैं.
  • लिंक्डइन रिक्रूटर लाइट: ये उन कंपनियों के लिए आदर्श है जो हायरिंग कम करती हैं और [/ faq / 38359-linkedin-which-means-degrees-of-connection-and-how-to-upload फर्स्ट, सेकेंड और थर्ड ग्रेड कॉन्टैक्ट] का एक्सेस देती हैं.
  • पाइपलाइन बिल्डर: नौकरी में भर्ती की जल्दी है तो आप अपनी वेकेंसी के हिसाब से उपयुक्त और इच्छुक उम्मीदवारों की एक लिस्ट तैयार कर सकते हैं.
  • "हमारे साथ काम करें" की घोषणा : अपने इम्लॉयर के प्रोफाइल्स में अपने जॉब को प्रोमोट करें.

Facebook

फेसबुक अपने कमर्शियल पेज पर फ्री में जॉब ऑफर पब्लिश करने की सहूलियत देता है. ये ऑफर Marketplace या जॉब सेक्शन में भी दिखाई देता है. इन पोस्ट्स को आम यूजर्स शेयर करते हैं, और अपने दोस्तों को टैग भी करते हैं. जिससे इस विज्ञापन की पहुंच अधिक लोगों तक हो जाती है. जॉब पोस्टिंग टूल्स से आप ऐप्लिकेशन को ट्रैक करने में सक्षम होते हैं और मैसेंजर के जरिए सबसे उपयुक्त ऐप्लिकेंट को संपर्क भी कर सकते हैं.


उम्मीदवारों की भर्ती के लिए दूसरे चैनल्स

ट्विटर और इंस्टाग्राम जैसे सोशल नेटवर्क को भी नौकरी की भर्ती के लिए इस्तेमाल किया जाता है. यहां कई एचआर प्रोफेशनल्स ऐप्लिकेंट के बारे में जानकारी हासिल करते हैं. भले ही छोटे स्तर पर, पर इन प्लेटफाम पर भी वेकैंसी पब्लिश और यूजर्स के साथ इंटरैक्ट किया जाता है. हालांकि, खासतौर से Instagram को संभावित उम्मीदवारों को कंपनियों की रोजमर्रा की जिंदगी दिखाने के एक बेहतरीन चैनल के रूप में देखा जाता है. इस तरह वे उम्मीदवारों का ध्यान भी अपनी ओर खींचने में कामयाब होती हैं.

ध्यान रहे: यदि आप चाहते हैं कि आपको ऐप्लिकेशन मिलें, तो अपने प्रोफाइल बायो में ये शामिल करें कि आपकी कंपनी से कैसे संपर्क किया जा सकता है.

नियोक्ता के रूप में, आपके सामने सोशल मीडिया के जरिए बेहतरीन प्रतिभा को खोजने के अनगिनत मौके हैं. बेशक, आप दूसरे डिजिटल चैनल्स जैसे कि आम या खास जॉब पोर्टल्स और आपके कंपनी की वेबसाइट पर भी भरोसा कर सकते हैं.

Photo: © 123rf.com

0
धन्यवाद

आभार प्रकट करने के लिए कहे गए थोड़े शब्द काफी सराहनीय होंगे.

सवाल पूछें
CCM पर आने वाली सारी जानकारियों को जीन फ़्रांसवा पिलाओ की अगुआई में आईटी विशेषज्ञ एक साथ मिलकर तैयार करते हैं. जीन फ़्रांसवा पिलाओ CCM के संस्थापक और Figaro Group के डिजिटल डायरेक्टर हैं. CCM फ्रांस की नंबर वन टेक वेबसाइट है. ये 11 भाषाओं में उपलब्ध है.
CCM (in.ccm.net) पर उपलब्ध यह डॉक्युमेंट " Social Media के जरिए उम्मीदवारों की भर्ती कैसे करें" क्रिएटिव कॉमन लाइसेंस के तहत उपलब्ध कराया गया है. जैसा कि इस नोट में साफ जाहिर है, आप इस पन्ने को लाइसेंस के तहत दी गई शर्तों के मुताबिक संशोधित और कॉपी कर सकते हैं.