0
धन्यवाद

आभार प्रकट करने के लिए कहे गए थोड़े शब्द काफी सराहनीय होंगे.

Motherboard battery ko kaise badlen

लैपटॉप और पीसी के मदरबोर्ड में बैटरी होती है. ये बैटरी CMOS (configuration memory or BIOS) को ऑपरेट करती है और कंप्यूटर क्लॉक के टाइम और डेट को भी करेक्ट करती रहती है. इस बैटरी के कमजोर पड़ने से कई सारी गड़बड़ियां पैदा हो जाती हैं. आज इस आर्टिकल में हम बताएंगे कि आप मदरबोर्ड की बैटरी कैसे बदल सकते हैं.

मदरबोर्ड की बैटरी का क्या काम

जैसा कि हमने बताया, बैटरी से ही Real Time Clock (RTC) काम करता है. यहीं डेट और टाइम सेटिंग सेव होते हैं. साथ ही यहां आपके पीसी का हार्डवेयर पारामीटर्स, जैसे कि हार्ड डिस्क, मेमोरी, कैचे और BIOS से जुड़ी दूसरी चीजें होती हैं. BIOS एक बेहद जरूरी फर्मवेयर है. ये आपके कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर को बताता है कि हार्डवेयर कैसे काम कर रहे हैं.

हालांकि, ये बैटरी अगर काम नहीं कर रही हो, तब भी आप अपना कंप्यूटर ऑन कर सकते हैं. और अगर कंप्यूटर ऑन नहीं हो रहा तो आपको हर बार कंप्यूटर स्टार्ट करने वक्त सेटिंग को रिकंफिगर करना होगा. और जाहिर है ये प्रैक्टिकल नहीं है. इसलिए, ये सही होगा कि सतर्क रहें और जब ये गड़बड़ी का संकेत दे तो इसे बदल दें.

बैटरी कब बदलें



आपका पीसी ही आपको ये बताएगा कि आपको अब मदरबोर्ड की बैटरी बदल देनी चाहिए. ऐसा तब होगा जब आपका सिस्टम यहां बताए गए किसी समस्या से रूबरू हो रहा हो:

इक्विपमेंट के डेट और टाइम में गड़बड़ी
एरर मैसेज, जैसे:
"CMOS Read Error"
"BIOS CMOS checksum error"
"CMOS Battery Failure"
"BIOS CMOS battery low cmos wrong memory size"
"No operating system"
"CPU overclocking failed"
"New CPU has been installed"

किस्मत से, मदरबोर्ड बैटरीज- खासतौर से CR2032, जो बहुत ही कॉमन टाइप की है- बहुत ही सस्ती होती हैं. आपको ये किसी भी इलेक्ट्रिक्स स्टोर या सुपरमार्केट में मिल जाएगी.
.

बैटरी कैसे बदलें

शुरू करने से पहले, हमारा सुझाव होगा कि आप सबसे पहले BIOS सेटअप एक्सेस करें. स्क्रीन पढ़ें और डिफॉल्ट पारामीटर्स को लिख लें. क्योंकि एक बार आपने बैटरी बदल दी, तो आपको उन्हें रिकंफिगर करना होगा.

1. BIOS stack (CCM) को लोकेट करें

जो बैटरी बदलनी है, वो वैसे एकदम "बटन" की तरह होती है. ये चिपटी और गोल आकार की होगी. पुराने मॉडल को देखें, तो कई बार ये सिलिंडर के आकार भी भी होती है. वैसे ये एक्सटेंशन कार्ड, फ्लैट कनेक्टर्स या केबल्स के पीछे छिपी हो सकती है. आपको इन सबको हटाकर इसको पूरा एक्सेस करना होगा. इसे लोकेट करने के लिए:

कंप्यूटर बंद कर दें और फिर सीपीयू के पीछे केबल और प्लग को हटा दें.
कवर या हाउसिंग को हटा दें और स्टैटिक इलेक्ट्रीसिटी डिस्चार्ज करने के लिए किसी धातु की वस्तु को छुएं. आप जो भी हटाएं, या डिसकनेक्ट करें उसे कहीं लिख लें. ताकि बाद में आप उसे रिएसेम्बल करना ना भूलें.
बैटरी मिल जाए, जो हैंडी और विजिबल हो सकती है और आप इसे पकड़ सकते हैं, तो उसे सावधानी से हटा दें. ध्यान रखें कि कहीं क्लिप ब्रेक ना हो जाए. अगर इसे निकालने में कहीं कोई दिक्कत आए, मतलब ये ना निकल रही हो, तो निर्माता के निर्देशों पर एक नजर डालें कि इसे कैसे हटाया जा सकता है.

2. पुरानी बैटरी हटाएं और नई इंस्टॉल करें

CPU को ऐसे रखें कि मदरबोर्ड हॉरिजेन्टल रहे. बैटरी के डायरेक्शन (पॉजिटिव पोल आमतौर पर विजिबल पार्ट में स्थित होता है) पर ध्यान रखें. मदरबोर्ड मॉडल जैसा हो उसके हिसाब से बैटरी हटाने के अलग अलग तरीके होते हैं. लेकिन एक रूल सामान्य है, कि बचें:

दूसरी पीसेज प्ले करने से
हाउसिंग में बैटरी पॉप करने से
फोर्स

अगर स्टैक क्वाइन्स से नहीं बना, इसे साधारण तरीके से हटाया नहीं जा सकता. इसलिए ध्यान रखें और मैन्युफैक्चरर्स के सुझावों को फॉलो करें.

अंत में, आपने एक बार इसे हटा लिया, तो इसे रखें और अपने साथ स्टोर में ले जाएं जहां आप नया खरीदने वाले हैं. ऐसा इसलिए ताकि नया, आपके पुराने वाले से मिलता हो.

पुरानी बैटरी हटाने के बाद नयी बैटरी लगाना अपेक्षाकृत आसान होता है. बेशक हर सामान को अपनी जगह में रखने से पहले, ध्यान रखे कि आपने बैटरी सही दिशा में रखी है और ये कि ये बैटरी अच्छे से लगाई गई हो.

3. CMOS वैल्यू को रिकंफिगर करना और क्लॉक एडजस्ट करना

आपने जब बैटरी बदल ली और आपके कंप्यूटर का केस बंद कर दें, आपको BIOS (अगर आपने फैक्टरी सेटिंग्स को मोडिफाई किया हो) को अब रिकंफिगर करना होगा. क्योंकि ये अपने डिफॉल्ट वैल्यूज की ओर लौटेगा. ऐसा करने के लिए:

पीसी स्टार्ट करें
BIOS एंटर करें
डेट और टाइम सेट करें

वेरिफाई करें कि शुरुआत में दिए गए पारामीटर्स सही हों, और नहीं हैं तो उन्हें करेक्ट करें.
मोडिफिकेशन सेव करने के बाद Exit करें.

अधिक जानकारी के लिए

मदरबोर्ड


Photo: © Unsplash.
0
धन्यवाद

आभार प्रकट करने के लिए कहे गए थोड़े शब्द काफी सराहनीय होंगे.

सवाल पूछें
CCM पर आने वाली सारी जानकारियों को जीन फ़्रांसवा पिलाओ की अगुआई में आईटी विशेषज्ञ एक साथ मिलकर तैयार करते हैं. जीन फ़्रांसवा पिलाओ CCM के संस्थापक और Figaro Group के डिजिटल डायरेक्टर हैं. CCM फ्रांस की नंबर वन टेक वेबसाइट है. ये 11 भाषाओं में उपलब्ध है.
CCM (in.ccm.net) पर उपलब्ध यह डॉक्युमेंट "मदरबोर्ड बैटरी कैसे बदलें " क्रिएटिव कॉमन लाइसेंस के तहत उपलब्ध कराया गया है. जैसा कि इस नोट में साफ जाहिर है, आप इस पन्ने को लाइसेंस के तहत दी गई शर्तों के मुताबिक संशोधित और कॉपी कर सकते हैं.

0 टिप्पणी