0
धन्यवाद

आभार प्रकट करने के लिए कहे गए थोड़े शब्द काफी सराहनीय होंगे.

Android aur iOS device mein applications block kaise karein

मोबाइल फोन का ऐप्लिकेशन ब्लॉकिंग सिस्टम शुरू शुरू में बच्चों को खास कंटेन्ट से दूर रखने के लिए आया था. हालांकि, आपके स्मार्टफोन के सभी ऐप में वैसी निजी जानकारियां होती हैं जिन्हें हम स्नूपर्स या चोरों से बचा कर रखना चाहते हैं. इसलिए किसी ऐप को एक्सेस करने के लिए यदि पासवर्ड हो, तो इससे हमारी गोपनीय जानकारियां सुरक्षित रहती हैं.



ऐप्लिकेशन ब्लॉकिंग का एक और फायदा है. हम किसी किसी ऐप्लिकेशन पर इतना ज्यादा समय बिताने लगते हैं कि ये एक तरह से लत की शुरुआत हो सकती है. और इसी लत से हम बच सकते हैं. इनमें से कोई भी फायदा पाने के लिए कोई भी एंड्रॉयड या आईओएस पर ऐप्लिकेशन ब्लॉक कर सकता है. . आप ये करना चाहते हैं तो, अपने फोन के सेटिंग मेनू में जाइए. या किसी बाहरी ऐप से ये काम और भी आसानी से किया जा सकता है.


एंड्रॉयड मेनू की मदद से

आपके एंड्रॉयड स्मार्टफोन की सेक्योरिटी सेटिंग में जाइए. वहां किसी खास ऐप्लिकेशन का एक्सेस ब्लॉक करने या लिमिट (इस्तेमाल कम करने) का ऑप्शन होगा. आपको अब Settings > Applications में जाना होगा. और जब आप एक एक करके उनमें जाएंगे तो वहां ऑप्शन की लिस्ट में Permissions टैब मिलेगा. इसकी मदद से आप एक्सेस को अपनी मर्जी के हिसाब से सेट कर सकते हैं.

हालांकि, इसमें ज्यादा समय खर्च होगा और ये पूरी तरह विकसित प्रक्रिया नहीं होगी. इसकी तुलना में यदि आप वैसे ऐप्लिकेशन को इंस्टॉल करेंगे जो सुरक्षित किए गए, साथ ही ब्लॉक किए गए ऐप्स को मैनेज करते हैं, तो अधिक आसानी होगी. यही नहीं, अक्सर ये ऐप्लिकेशन हमें कई कॉम्पलिमेंटरी ऑप्शन की सुविधा देते हैं.

एड्रॉयड के लिए ऐप्स

AppLock: सबसे उपयोगी

AppLock अपनी बहुमुखी प्रतिभा के कारण सबसे अधिक बार डाउनलोड किए जाने वाले ब्ल़ॉकिंग ऐप्लिकेशंस में से एक है. ये आपको कई तरह के काम करने की सुविधा देता है, जो इस प्रकार हैं:

* पासवर्ड, अनलॉकिंग पैटर्न या फिंगरप्रिंट के साथ किसी खास ऐप का प्राइवेट एक्सेस, . ये किसी को भी आपके लॉक किए गए ऐप की जानकारियों को एक्सेस करने से रोकता है. यही नहीं, ऐपलॉक पेरेंटल कंट्रोल टूल की तरह भी काम करता है.

* जब आप जरूरी काम कर रहे हों, या दफ्तर में हों तो ऐपलॉक की मदद से किसी ऐप को कुछ समय के लिए ब्लॉक कर सकते हैं. जैसे कि आप कोई खास समय चुन सकते हैं जिस दौरान ये लॉक रहे. ये समय आपका जब मन करे, तब चुन सकते हैं, या इसे रूटीन लॉक भी कर सकते हैं. इससे हर दिन तय समय पर वो ऐप खुद ही लॉक हो जाएगा.

इसमें * File vaults उपलब्ध होगा. यहां आप अपनी तस्वीरें, वीडियोज, कन्वर्सेशन या दूसरी उन जानकारियों को जिन्हें आप सुरक्षित रखना चाहते हैं, को पासवर्ड-प्रोटेक्ट कर सकते हैं.

* अनचाहे कॉल्स या मैसेज को ब्लॉक करता है.

* Google Play Store सर्विस को ब्लॉक करता है ताकि कोई भी आपके फोन में आपकी मर्जी के बिना फालतू ऐप डाउनलोड ना करे.



AppLock अंग्रेजी के साथ ही साथ 44 दूसरी भाषाओं में उपलब्ध है. तो आप भी इसे अपने एंड्रॉयड फोन के लिए यहां से डाउनलोड कर सकते हैं.


Perfect AppLock: सबसे सुरक्षित

परफेक्ट ऐपलॉक को बेहद सरल तरीके से तैयार किया गया है. ये वाकई में उपयोगी है.

ये कैसे काम करता है? परफेक्ट ऐपलॉक के मेन मेनू में, आपको उन सारे ऐप्स की लिस्ट मिलेगी जो आपके फोन में हैं. यहां सबके सहज आइकन भी मिलेंगे. आप किसी ऐप को अस्थायी तौर पर ब्लॉक कर सकते हैं या पासवर्ड रक सकते हैं. लेकिन साथ ही आप दूसरे ओरिजिनल टूल्स भी एक्सेस कर सकते हैं. जैसे कि हर ऐप के लिए ऑटोमैटिक स्क्रीन रोटेशन ब्लॉक करना या, स्क्रीन फिल्टर एक्टिवेट करना ताकि जब आप कोई मैसेज पढ़ रहे हों, तो आस पास मौजूद कोई व्यक्ति आपके स्क्रीन की जासूसी ना करे.

Perfect AppLock ये सारे काम तो करता ही है. लेकिन इसका एडवांस सेक्योरिटी सिस्टम इसकी सबसे बड़ी ताकत है. जैसे ही कोई आपके किसी पासवर्ड से छेड़खानी करने की कोशिश करेगा, ये आपको सतर्क कर देगा. तीन या उससे अधिक बार गलत पासवर्ड डालने की कोशिश करने पर WatchDog सर्विस एक्टिवेट हो जाएगी. वॉचडॉग फोन के फ्रंट कैमरे से उस व्यक्ति की फोटो खींच लेगा जो आपकी प्राइवेसी को भंग करने की कोशिश कर रहा है.



आप इसे अपने एंड्रॉयड डिवाइस के लिए यहां से डाउनलोड कर सकते हैं.

iOS मेनू की मदद से

आप अपने iPhone के सेटिंग मेनू में जाकर किसी खास ऐप्लिकेशन को ब्लॉक करने या परमिशन देने की प्रक्रिया को मैनेज कर सकते हैं. तो अपनी Settings > Screen Time में जाइए और सामने जो मेनू दिखाई दे रहा है, वहां आपको किसी खास ऐप या कंटेन्ट को ब्लॉक, लिमिट या कंट्रोल करने का ऑप्शन मिलेगा. आप चाहें तो इन सेटिंग्स को दूसरे डिवाइसेज के साथ भी शेयर कर सकते हैं. और यदि आप अपने स्क्रीन के नीचे देखेंगे, तो वहां फैमिली-स्पेसिफिक सेटिंग पाएंगे. इस सेटिंग की मदद से आप परिवार के दूसरे सदस्यों के साथ इसे शेयर कर सकते हैं.


iOS के लिए ऐप्स

1Password: दोगुनी सुरक्षा

1Password ऐप्लिकेशन को शुरू शुरू में पासवर्ड स्टोरेज की सुरक्षा के लिए बनाया गया था. हालांकि, अब इसका एडवांस प्राइवेसी सिस्टम आईओएस के लिए ब्लॉकिंग ऐप्स की बेहतरीन सर्विसेज में से एक ऑफर करता है. .

बेहद सहज इंटरफेस वाले इस ऐप की मदद से आप वन-टाइम या लॉन्ग-टेस्टिंग लॉक सेट कर सकते हैं. पासवर्ड, पैटर्न और फिंगरप्रिंट के अलावा, इससे आप Face ID अनलॉक करने का सिस्टम भी सेट कर सकते हैं. .

चूंकि 1Password पासवर्ड सेफ की तरह भी काम करता है, इसलिए ये डबल ऑथेन्टिकेशन कोड को और सुरक्षित बनाता है. यदि कभी भी आपकी सुरक्षा को कोई तोड़ने में सफल हो जाता है, तो ऐप आपको नोटिफाई करेगा. आप अपने सारे डिवाइसेज सिंक कर काम करने के लिए अपने लॉक्स और पासवर्ड को कंफिगर कर सकते हैं.

ध्यान दें कि ये दुनिया भर में बड़े पैमाने पर इस्तेमाल की जाने वाली पासवर्ड स्टोरेज सर्विस है. ये स्ट्रीमिंग सर्विसेज में कलेक्टिव अकाउंट्स के मामले में ग्रुप के साथ इन्हें शेयर करने की इजाजत देती है.



आप अपने आईफोन के लिए 1Password को यहां से डाउनलोड कर सकते हैं.


iSafe Pro: सुरक्षा पर सबसे अधिक जोर

आपके फोन पर फाइल्स और ऐप्स को सुरक्षित रखने वाले सबसे एडवांस ऐप्लिकेशन में से iSafe Pro एक है. हालांकि, ये फ्री नहीं है. लेकिन इसकी कीमत बस 1 यूरो यानी लगभीग 85 रुपए हैं. लेकिन कीमत के मुकाबले इसकी सर्विस बहुत अच्छी है.

ये ऐप्लिकेशन आपको अपनी प्रोटेक्टेड फाइलों को कैटेगरी के हिसाब से समूह में बांटने का मौका देता है. आप चाहें तो पासवर्ड प्रोटेक्टेड ऐप्स को अपने फोन के होम मेनू से हटा भी सकते हैं. केवल आप, एक स्पेशल कोड की मदद से, उस गोपनीय डायरेक्टरी को एक्सेस कर सकते हैं, जहां आपने अपने प्रोटेक्टेड ऐप्लिकेशन रखे हैं. कभी कभी ऐसा होता है कि कोई आप पर अपने iSafe में क्या छिपा कर रखा है, उसे दिखाने का दबाव डालता है. ऐसे में आप इसमें फेक पासवर्ड ऐड सकते हैं. पासवर्ड डाल कर अनलॉक करते ही उस व्यक्ति को केवल वही फाइलें दिखेंगी जो आपने चुनी हैं.



आप अपने आईफोन के लिए iSafe को यहां से डाउनलोड कर सकते हैं.

Photo – Shutterstock.com.
0
धन्यवाद

आभार प्रकट करने के लिए कहे गए थोड़े शब्द काफी सराहनीय होंगे.

सवाल पूछें
CCM पर आने वाली सारी जानकारियों को जीन फ़्रांसवा पिलाओ की अगुआई में आईटी विशेषज्ञ एक साथ मिलकर तैयार करते हैं. जीन फ़्रांसवा पिलाओ CCM के संस्थापक और Figaro Group के डिजिटल डायरेक्टर हैं. CCM फ्रांस की नंबर वन टेक वेबसाइट है. ये 11 भाषाओं में उपलब्ध है.
CCM (in.ccm.net) पर उपलब्ध यह डॉक्युमेंट "Android-iOS डिवाइस में ऐप्लिकेशंस ब्लॉक कैसे करें" क्रिएटिव कॉमन लाइसेंस के तहत उपलब्ध कराया गया है. जैसा कि इस नोट में साफ जाहिर है, आप इस पन्ने को लाइसेंस के तहत दी गई शर्तों के मुताबिक संशोधित और कॉपी कर सकते हैं.

0 टिप्पणी