ईमेल में CC और BCC के बीच अंतर

अक्टूबर 2017


जीमेल, याहू, माइक्रोसॉफ्ट आउटलुक और मोजिला थंडरबर्ड सहित अधिकांश ईमेल सेवा आपको इस बात की सुविधा देती है कि आप अपना एक मेल एक साथ कई सारे लोगों को भेज सकते हैं. आप ऐसा आराम से कर सकते हैं. इसके लिए आप CC की मदद ले सकते हैं. इसका मतलब रेसिपिएंट का Carbon Copying है. इसी प्रकार BCC का मतलब है Blind carbon copying. सीसी का मतलब बस ग्रुप ईमेल भेजना है. जबकि बीसीसी उनकी पहचान छुपाती है जिन्हें समूह में ईमेल भेजा जाता है.

ईमेल में कैसे CC करें

आप ईमेल रेसिपिएंट को सीसी कर सकते हैं. इसके लिए बस आपको सारे ऐड्रेस की सूची को CC की फील्ड में डालना है. यह आमतौर पर To फील्ड के नीचे आपको मिलेगा.

ईमेल मेे BCC कैसे करें

आप अपने रेसिपिएंट की पहचान को छिपा सकते हैं. इसके लिए आपको To या CC फील्ड का प्रयोग करने की जगह उनके ऐड्रेस को BCC फील्ड में डालना होगा. काम शब्दों में अगर आप एक से ज्यादा यूजर को एक साथ मैसेज भेजना चाहते हैं पर ये नहीं चाहते की उन सभी को एक साथ एक ही मैसेज भेजा गया है तो आप BCC का प्रयोग करें. BCC करने से रिसीव करने वाले को सेंडर के अलावा और किसी का मेल या नाम नहीं दिखेगा.

Image: © johavel - Shutterstock.com

यह भी पढ़ें

ओरिजिनल आर्टिकल jak58 ने पब्लिश किया. Swarnkanta ने अनुवाद किया. ताजा अपडेट: 20 जुलाई, 2017 को अपराह्न 03:43 बजे RanuP ने किया.
CCM (in.ccm.net) पर उपलब्ध यह डॉक्युमेंट "ईमेल में CC और BCC के बीच अंतर" क्रिएटिव कॉमन लाइसेंस के तहत उपलब्ध कराया गया है. जैसा कि इस नोट में साफ जाहिर है, आप इस पन्ने को लाइसेंस के तहत दी गई शर्तों के मुताबिक संशोधित और कॉपी कर सकते हैं.