Facebook देगा 'Secret Crush' से रोमांस का मौका

स्वर्णकांता - 2 मई, 2019 - पूर्वाह्न 09:48 IST बजे
Facebook देगा 'Secret Crush' से रोमांस का मौका
Facebook का नया फीचर आपको अपने सीक्रेट क्रश से मिलवाएगा.

(CCM) — फेसबुक ने मंगलवार को अपने F8 डेवलपर कॉन्फ्रेंस के पहले दिन 'Secret Crush' फीचर का ऐलान किया. इसे 'फेसबुक डेटिंग ऐप' में जोड़ा गया है. ये लोगों को उनके सीक्रेट क्रेश से कनेक्ट करेगा. भारत में अभी ये फीचर लॉन्च नहीं हुआ है.

कैलिफोर्निया में हो रहे F8 डेवलपर कॉन्फ्रेंस में फेसबुक ने कई बड़े ऐलान किए. दुनिया के सबसे बड़े सोशल मीडिया प्लेटफार्म ने 'डेटिंग' फीचर पिछले साल F8 में पेश किया था. डेटिंग फीचर को अब और ज्यादा प्राइवेट बनाया गया है.

कंपनी के मुताबिक इसे 14 देशों में शुरू किया जा रहा है. इस तरह से इसे अब कुल 19 देशों के लोग इस्तेमाल कर सकते हैं. डेटिंग ऐप में एक फीचर ऐड किया गया है, जिसका नाम Secret Crush है. फीचर की मदद से फेसबुक यूजर्स अपने अधिकतम नौ ऐसे फेसबुक फ्रेंड्स जोड़ सकते हैं जिनके साथ वे रोमांटिक रिलेशन बनाना चाहते हैं.

सीक्रेट क्रश फीचर अमेरिका में इस साल के अंत तक फेसबुक यूजर इस्तेमाल कर पाएंगे. जहां तक भारत में इस फीचर के आने का सवाल है, तो कंपनी ने अभी इस सिलसिले में कोई जानकारी नहीं दी है.

फेसबुक ने मंगलवार को कैलिफोर्निया के सैन जोस में हो रहे अपने सलाना ‘एफ8’ सम्मेलन में घोषणा किया, "अगर आपके क्रश को ‘फेसबुक डेटिंग’ में चुना गया है तो उनके पास एक नोटिफिकेशन जाएगा कि कोई उन्हें पसंद करता है. इसके बाद अगर उन्होंने भी आपको अपनी ‘सीक्रेट क्रश’ सूची में जोड़ लिया तो यह ‘मैच’ हो जाएगा."

आइए जानते हैं कि Secret Crush फीचर कैसे काम करता है. ये फीचर आपको स्ट्रेंजर और फ्रेंड्स-ऑफ-फ्रेंडस से मिलवाएगा. सबसे पहले आपको 9 वैसे दोस्तों की लिस्ट बनानी होगी, जो आपके सीक्रेट क्रश हैं. अगर वो भी सीक्रेट क्रश का ऑप्शन यूज करते हैं और उन्होंने भी आपको सीक्रेट क्रश की अपनी लिस्ट में ऐड किया है तो फेसबुक आपको नोटिफिकेशन भेज देगा. इस तरह आप दोनों को नोटिफिकेशन मिलेगी. अब आप मैसेंजर पर चैट कर सकेंगे.

‘फेसबुक डेटिंग’ फिलहाल कोलंबिया, थाईलैंड, कनाडा, अर्जेटीना और मेक्सिको में उपलब्ध था और अब ये 14 और देशों- फिलीपीन्स, वियतनाम, सिंगापुर, मलेशिया, लाओस, ब्राजील, पेरू, चिली, बोलीविया, इक्वाडोर, पराग्वे, उरुग्वे, गुयाना और सूरीनाम में भी पहुंच गया है.

Image: © AlesiaKan - Shutterstock.com