Tinder लाया स्टूडेंट-ओनली सर्विस

Swarnkanta - 24 अगस्त, 2018 - अपराह्न 02:41 IST बजे
Tinder लाया स्टूडेंट-ओनली सर्विस
स्टूडेंट अब Tinder की मदद से अपने या आस-पास के कॉलेज के स्टूडेंट से दोस्ती कर सकते हैं.

(CCM) — डेटिंग ऐप Tinder ने नई सर्विस लॉन्च की है जिसमें कॉलेज स्टूडेंड को डेटिंग के लिए गर्लफ्रेंड या ब्यॉयफ्रेंड तलाशने में मदद मिलेगी. दोस्ती के अलावा इस ऐप से पढ़ाई में एक जैसी दिलचस्पी वाले स्टूडेंट भी मिल सकते हैं.


टिंडर यू में साइन करने और क्लासमेट स्वाइप ऑन करने के बाद यूजर को .edu ई-मेल ऐड्रेस की जरूरत पड़ेगी. उनका कॉलेज कैम्पस में होना भी जरूरी है.

कंपनी का दावा है कि शाम की डेटिंग के लिए किसी की तलाश में इस नए सर्विस से काफी मदद मिलेगी। टिंडर यू के ब्लॉग पोस्ट के पहले पन्ने पर लिखा है, "स्टडी में दिलचस्पी रखने वाले टाइप पार्टनर की तलाश है? कोई बात नहीं. कॉफी डेट पर जाना है? हमारे पास आइए. कॉलेज आए एक साल हो गए और आप किसी से मिले नहीं? आइए हम आपको कैम्पस के सबसे कूल लोगों से मिलवाते हैं."

इस सर्विस की मदद से वैसे यूजर्स भी मिल सकते हैं जो नजदीक के कॉलेज में पढ़ते हैं, साथ ही साथ वे यदि किसी खास शैक्षणिक संस्थान में जाते हों. स्टूडेंट डेटिंग के अलावा इस सर्विस की मदद से नए दोस्त बना सकते हैं, पढ़ाई में एक जैसी दिलचस्पी लेने वाले स्टूडेंट से मिलकर स्टडी की तैयारी कर सकते हैं. यूजर्स चाहें तो टिंडर यू और रेगुलर टिंडर ऐप के बीच टॉगल कर सकते हैं.

टिंडर के अभी करीब 38 लाख एक्टिव यूजर्स हैं. टिंडर यू के यूजर बेस जितना बड़ा होगा कंपनी को उतना ही फायदा होगा. वैसे तो ये ऐप टिंडर के रेगुलर वर्जन जैसा ही दिखता है, लेकिन इसमें स्टूडेंट की प्रोफाइल पिक के ऊपर संबंधित यूनीवर्सिटी की बैज भी दिखेगा. टिंडर यू अभी केवल आईओएस डिवाइस में ही इस्तेमाल किया जा सकता है.

वैसे कंपनी ने फिलहाल भारत में इस ऐप के आने के बारे में कोई जानकारी नहीं दी है. भारत के शहरी युवाओं के बीच भी टिंडर काफी लोकप्रिय है. बता दें कि टिंडर 2012 में भारत में लॉन्च हुआ था. कंपनी का दावा है कि भारत में हर रोज 75 लाख यूजर टिंडर को स्वाइप करते हैं. इसमें से 50 फीसदी ऐसे यूजर्स हैं, जिनकी उम्र 25 साल से नीचे है. टिंडर यूज करने वालों में भारत, एशिया का टॉप मार्केट है.

Image: © Tinder.