Roblox और Fortnite गेम से सावधान, स्कूलों ने दी चेतावनी

स्वर्णकांता - 19 अप्रेल, 2018 - पूर्वाह्न 10:26 IST बजे
Roblox और Fortnite गेम से सावधान, स्कूलों ने दी चेतावनी
प्राइमरी स्कूल ने दो लोकप्रिय ऑनलाइन गेम Roblox और Fortnite के खिलाफ माता-पिता को आगाह किया है.

(CCM) — यूरोप के प्राइमरी स्कूलों ने माता-पिता से कहा है कि वे अपने बच्चों को Roblox और Fortnite गेम न खेलने दें. साथ ही ये भी सलाह दी है कि खेलते वक्त उनकी निगरानी करें. दोनों ऑनलाइन गेम बच्चों के बीच काफी लोकप्रिय हैं.


पिछले दिनों भारत में ऑनलाइन गेम खेलते हुए बच्चे की मौत की कई घटनाएं हुई हैं. अगस्त, 2017 में ब्लू व्हेल गेम खलते हुए मुंबई के एक 14 बच्चे ने आत्महत्या कर ली थी. इसलिए माता-पिता को सतर्क रहने की जरूरत है.

रॉबलॉक्स और फोर्टनाइट ऐसे गेम है जिसमें प्लेयर्स आपस में ऑनलाइन चैट करते हैं. इस तरह वे एक-दूसरे के संपर्क में रहते हैं. चिंता जताई जा रही है बच्चे इस बात से अनजान होते हैं कि वे किसके साथ खेल रहे हैं या चैट कर रहे हैं. ऐसे में खेल के दौरान किसी अजनबी से संपर्क खतरनाक हो सकता है.

उत्तरी आयरलैंड के अर्माघाग के एक प्राइमरी स्कूल ने माता-पिता को आगाह करते हुए कहा है कि यदि उनके बच्चे इनमें से कोई भी गेम खेलते हैं तो उन्हें मना करें. गेम खेलते वक्त बच्चों की निगरानी करने की सख्त जरूरत है. ये दोनों गेम बच्चों और युवाओं के बीच कुछ मशहूर गेम्स में से हैं.

इसी तरह उत्तरी आयरलैंड के ही एक और स्कूल ने दोनों गेम्स के खिलाफ बच्चों के अभिभावकों को चेताया है और कहा है कि वे अपने बच्चों के इन्हें खेलने से मना करें.

इस स्कूल के प्रिंसिपल का कहना है कि रॉबलॉक्स और फोर्टनाइट गेम सभी उम्र के बच्चों को बहुत लुभाते हैं. उन्होंने कहा, "आज इंटरनेट की जो हालत है, तैयार किए जा रहे अगल अलग तरह के गेम पर नजर रखना मुश्किल होता जा रहा है. रॉबलॉक्स बच्चों की कल्पनाशीलता का इस्तेमाल करता है. इसीलिए वे ऐसे लोगों के संपर्क में आ सकते हैं जो संभव है अपनी झूठी पहचान बता रहे हों."

उन्होंने इंटरनेट सेफ्टी के लिए स्कूलों, माता-पिता और अथॉरिटी के बीच तालमेल को जरूरी बताया.

हालांकि फोर्टनाइट ने कहा है कि सुरक्षित रहने के लिए बच्चे चाहें तो गेम के सभी प्लेटफार्म पर वॉयस सेबल कर सकते हैं.

तो रॉबलॉक्स ने सफाई दी है कि उसके गेम पर माता-पिता का पूरा नियंत्रण है. उन्हें अपने बच्चे के अकाउंट की सभी सेटिंग की रिव्यू करनी चाहिए. यह भी कहा गया कि 12 या उससे कम उम्र के बच्चों के लिए पर्याप्त नियंत्रण और सख्त पाबंद की व्यवस्था रखी गई है.

कंपनी के मुताबिक, "हमारी सेफ्टी टीम अपलोड किए गए सभी ईमेजेज, वीडियो और ऑडियो फाइल को रिव्यू करती है. और इस बात को सुनिश्चित करती है कि वे सुरक्षित हों और बच्चों के अनुकूल हों."

Image: © Rawpixel - Shutterstock.com