मोबाइल में पैनिक बटन का ट्रायल 26 जनवरी से शुरू

स्वर्णकांता - 3 जनवरी, 2018 - पूर्वाह्न 09:51 IST बजे
मोबाइल में पैनिक बटन का ट्रायल 26 जनवरी से शुरू
मोबाइल फोन में पैनिक बटन का ट्रायल 26 जनवरी से उत्तर प्रदेश से शुरू हो रहा है.

(CCM) — महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी के मुताबिक उत्तर प्रदेश में 26 जनवरी से मोबाइल फोन पर पैनिक बटन उपलब्ध होगा. इसमें हर मोबाइल में एक GPS नैविगेशन सिस्टम होगा जिससे किसी भी समय फोन की लोकेशन पता लगाई जा सकेगी.

भारत सरकार ने पिछले साल इस सम्बन्ध में सबसे पहले 22 अप्रैल को एक नोटिफिकेशन जारी किया था. इसके अनुसार 1 जनवरी 2017 से देश में बिकने वाले सभी हैंडसेट में पैनिक बटन होना अनिवार्य होगा.


इस फीचर के तहत मोबाइल फोन में डायल पैड के न्यूमेरिक बटन 5 या न्यूमेरिक बटन 9 को तीन सेकेण्ड तक दबाने पर इमरजेंसी कॉल लग जाएगी. इस फीचर के बिना कोई भी फोन बेचना गैरकानूनी होगा.

आदेश के अनुसार पैनिक बटन दबाने पर सीधे इमरजेंसी नंबर 112 पर कॉल जाएगी. जिन शहरों में यह नंबर उपलब्ध नहीं है वहां इमरजेंसी कॉल सीधे 100 नंबर पर जाएगी.

हालांकि अभी दूरसंचार विभाग ने अपने आदेश में संशोधन करते हुए बिना पैनिक बटन (आपातकालीन कॉल बटन) वाले मोबाइल फोन 28 फरवरी 2017 तक आयात करने की अनुमति दे दी है.

पैनिक बटन एंड ग्लोबल पोजीशनिंग सिस्टम इन मोबाइल फोन हैंडसेट रूल 2016 पहले ही दूरसंचार विभाग को नोटीफाई कर चुका है. इन नियमों के तहत आने वाले समय में सभी नये मोबाइल फोन में पैनिक बटन की सुविधा होगी, इसको लेकर तीन साल से महिला और बाल विकास मंत्रालय दबाव बना रहा था. ट्रायल उत्तर प्रदेश में सफल होने के बाद साल के अंत तक इसका विस्तार पूरे देश में करने की योजना है.

मंत्रालय के अधिकारी के मुताबिक जब पैनिक बटन दबाया जाएगा तो यह पांच एक्शन करेगा. पहला, आसपास की पुलिस अथॉरिटी के पास मदद के लिए पांच SMS भेजेगा. दूसरा, पहले से फीड पांच नंबरों पर मदद के लिए SMS जाएंगे. तीसरा, इमरजेंसी नंबर पर वॉयस कॉल जाएगी. चौथा, सभी के पास यूजर की लोकेशन जाएगी और पांचवां, आसपास के करीब 25 एक्टिव वॉलंटियर्स के पास मदद के लिए अलर्ट जाएगा.

अधिकारी ने बताया वॉलंटियर्स रजिस्टर्ड किए जाएंगे. ये पुलिस के पहुंचने से पहले अगर लोकेशन पर पहुंच पाएं तो मदद मांगने वाली महिला को जरूरी मदद देंगे. उनके मुताबिक अभी ट्रायल स्मार्टफोन पर ही किया जाएगा.

Photo: © CORTANA - iStock.