ओला अब भारत के बाहर भी चलने को तैयार

RanuP - 6 जुलाई, 2017 - अपराह्न 01:53 IST बजे

ओला अब भारत के बाहर भी चलने को तैयार

भारत में ऊबर को अच्छी टक्कर देने के बाद भारतीय स्टार्टअप ओला अब देश के बाहर भी अपना कारोबार फैलाने जा रहा है.

(CCM) — कैब एग्रीगेटर ओला अब भारत के बाहर पड़ोसी मुल्कों में भी कारोबार करेगा. कंपनी अब श्रीलंका, नेपाल और बांग्लादेश में भी सर्विस शुरू करने की योजना बना रही है. ओला भारत के 110 शहरों में सर्विस देता है.

गैजेट360 की रिपोर्ट के अनुसार कंपनी की योजना धीमे-धीमे अंतरराष्ट्रीय बाजार में अपनी पहुंच बढ़ाने की है. वैसे ओला का सबसे बड़ा प्रतिद्वंद्वी ऊबर पहले से ही श्रीलंका और बांग्लादेश के बाजार में अपने कदम रख चुका है.

भारत में ओला ने वैसे भी ऊबर को तगड़ी टक्कर दी है. बेंगलुरु के इस स्टार्टअप ने कई मामले में ऊबर को पीछे छोड़ दिया. दक्षिण एशियाई देशों के अलावा ओला एशिया और उत्तरी अमेरिका के देशों में भी ऑपरेशन शुरू कर सकती है. हालांकि ओला की तरफ से इस बारे में कोई बयान या जानकारी नहीं दी गई है.

जानकार अभी भी यह समझ नहीं पा रहे हैं कि ओला ने भारत से बाहर के मुल्कों में अपना विस्तार करने के लिए यही समय क्यों चुना! पर यह तभी साफ़ हो गया था जब ओला ने ऐप इंटरफेस पर भारत के अलावा अन्य देशों के फोन नंबर भी फीड करने का ऑप्शन दे दिया था.

वैसे कैब एग्रीगेशन मार्केट में तभी से बदलाव दिखने लगे थे जब चीन की कंपनी दीदी ने ऊबर के चीनी ऑपरेशन को खरीदा. और अंत में चीन में ऊबर और दीदी का विलय हो गया.

पर अगर ओला और ऊबर की तुलना करें तो दोनों का मामला एकदम अलग है. जहां ओला भारत में ऊबर को पीछे छोड़ने के बाद देश के बाहर के बाजार में कदम रखने जा रही है वहीं ऊबर दुनिया के कई बड़े बाजार में अच्छा बिजनेस करने के बाद भारत आई है. ओला से जबरदस्त मुकाबले के बाद अभी भी शीर्ष पर पहुंचने के लिए संघर्ष कर रही है.

ऊबर दुनिया के 500 शहरों में चलती है. इसमें भारत के 29 शहर भी शामिल हैं. चीनी मार्केट से निकलने के बाद ऊबर ने भारत पर ज्यादा ध्यान देना शुरू किया है. ऊबर पिछले कुछ समय से अपने सीईओ और टॉप लीडरशिप के इस्तीफों की वजह से चर्चा में है.

Photo: © OLA.