कोरियाई बिटक्वाइन एक्सचेंज पर साइबर हमला

Swarnkanta - 6 जुलाई, 2017 - पूर्वाह्न 11:05 IST बजे

कोरियाई बिटक्वाइन एक्सचेंज पर साइबर हमला

दक्षिण कोरिया के बिटथंब क्रिप्टो करेंसी एक्सचेंज पर साइबर हमला हुआ है. 30,000 से अधिक ग्राहक हैकिंग का शिकार हुए हैं.

(CCM) — बीबीसी रिपोर्ट के मुताबिक दक्षिण कोरिया में क्रिप्टो करेंसी एक्सचेंज के बेहद अहम सेंटर बिटथंब पर हैकरों ने हमला किया है. इसमें वर्चुअल करेंसी बिटक्वाइन का इस्तेमाल करने वाले दक्षिण कोरिया के कम से कम एक यूजर को करीब 10 लाख डॉलर का नुकसान होने की आशंका जताई जा है.

बिटथंब ने माना है कि इसके एक कर्मचारी के घर में मौजूद कंप्यूटर पर साइबर हमला हुआ. इसके बाद पता चला कि 30,000 से अधिक ग्राहकों से जुड़ी निजी जानकारियां चुरा ली गई हैं. बताया जा रहा है कि यह हमला फरवरी में हुआ है. पर इसके बारे में जानकारी 29 जून, 2017 को हुई. बिटथंब एक्सचेंज दुनिया का पांचवां सबसे बड़ा बिटक्वाइन एक्सचेंज सेंटर है.

हैकिंग की जानकारी देते हुए बिटथंब ने बताया कि ग्राहकों का पासवर्ड लीक नहीं हुआ है. जबकि बीबीसी की रिपोर्ट कहती है कि 30,000 से अधिक ग्राहक हैकिंग का शिकार हुए हैं. जून में ग्राहकों को इससे जुड़ी कॉल और टेक्स्ट मिले थे. इसके बाद उनके अकाउंट के गोपनीय ऑथेंटिकेशन कोड में सेंध लगाई गई.

बिटथंब ने उन ग्राहकों को मुआवजा देने का वादा किया है जो इससे प्रभावित हुए हैं. ग्राहकों को हुए नुकसान के लिए 86 डॉलर की राशि तय की है. वैसे यदि किसी यूजर्स को हुए नुकसान की जानकारी मिलती है तो यह रकम बढाई भी जा सकती है. लेकिन अभी तक यह स्पष्ट नहीं किया गया कि सभी ग्राहकों को मुआवजे में उनको हुए नुकासन की पूरी राशि दी जाएगी.

साल 2017 में बिटक्वाइन क्रिपटो करेंसी में तेजी आई है. इस साल की पहली छमाही में यह 160 प्रतिशत बढ़ा है. वहीं एक और लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी एथेरेम में भी इस साल 4000% का उछाल आया है.

बिटथंब दक्षिण कोरिया की सबसे महत्वपूर्ण एक्सचेंज में से एक है. यह खरीददार को बिटक्वाइन खरीदने, बेचने और स्टोर करने में मदद करती है.

Image: © vonDUCK - Shutterstock.com