ब्रिटेनः सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी से हैकरों ने मांगी फिरौती

Swarnkanta सोमवार 26 अक्टूबर, 2015 को अपराह्न 085630 बजे

ब्रिटेनः सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी से हैकरों ने मांगी फिरौती

ब्रिटेन की सबसे बड़ी टेलीफोन सेवा देने वाली कंपनी "टॉक टॉक" पर बड़ा साइबर हमला हुआ है. और हैकरों ने डाटा के लिए फिरौती की मांग की है.

इस हफ्ते टॉक टॉक ने खबर की पुष्टि करते हुए कहा है कि हैकरों ने कंपनी के लाखों उपभोक्ताओं की निजी जानकारी और बैंक डिटेल चुरा लिए हैं.

टॉक टॉक ने हमले से जुड़े एक सपोर्ट पेज पर कहा है, “हमारी वेबसाइट पर बड़ा साइबर हमला हुआ है.” कंपनी का कहना है कि यूजरों के नाम, पता, जन्मतिथि, ईमेल ऐड्रेस, टेलीफोन नंबर, क्रेडिट कार्ड या बैंक डिटेल के चोरी होने की संभावना है.

हालांकि फिलहाल यह बताना मुश्किल है कि कितने लोगों की जानकारी चुराई गई है. लेकिन ये आशंका जताई जा रही है कि कंपनी के तकरीबन 40 लाख यूजर पर इसका प्रभाव पड़ सकता है. मेट्रोपॉलीटन पुलिस साइबर क्राइम यूनिट की जांच जारी है.

तो दूसरी ओर टॉक टॉक की सीईओ डिडो हार्डिंग ने जानकारी दी है कि उन्हें फिरौती के लिए एक ईमेल मिला है. ईमेल भेजने वाले ने हैकिंग का दावा करते हुए फिरौती मांगी है.

उन्होंने बताया कि इससे अधिक जानकारी देना मुश्किल है लेकिन हमें हैकरों ने संपर्क किया है. हार्डिंग ने बताया कि फिलहाल ईमेल की प्रमाणिकता की जांच चल रही है. टॉक टॉक ने इसे पुलिस मामला बताते हुए आगे कुछ भी कहने से इंकार किया है.

इधर रूस के जिहादी साइबर आतंकवादी संस्था ने आगे बढ़कर साइबर हमले की जिम्मेदारी ली है. पर पुलिस का कहना है कि जांच चल रही है और ऐसे में किसी की गिरफ्तारी जल्दबाजी भरा कदम होगा.

हाल के दिनों में हैकिंग की कई बड़ी घटनाएं सामने आई हैं. बीते दिनों हैकरों ने अमरिकी सेना की गोपनीय जानकारी चुराने का दावा किया था. तो अगस्त में विवाहेत्तर संबंधों के लिए प्रोत्साहित करने वाली वेबसाइट एश्ले मेडिसन के उपभोक्ताओं की जानकारी चुरा ली गई थी. उससे पहले सोनी पर बड़ा साइबर हमला किया गया था.

Photo: © Getty Images.
(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)