गूगल को देना होगा 9 अरब डॉलर का जुर्माना!

Swarnkanta - 19 जून, 2017 - अपराह्न 08:39 IST बजे

गूगल को देना होगा 9 अरब डॉलर का जुर्माना!

यूरोपीय संघ जल्द ही दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी गूगल पर 9 अरब डॉलर का जुर्माना लगाने वाला है.

(CCM) — <ital>द वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट के मुताबिक में ये बात सामने आई है गूगल ने अपने सर्च इंजन की मदद से बाजार को गलत तरीके से प्रभावित किया. रिपोर्ट में कहा गया है कि इसकी वजह से उसके प्रतिद्वंदियों को खासा नुकसान पहुंचा.

जांच में पता चला है कि गूगल ने लोगों को गलत तरीके से अपनी वेबसाइटों पर से प्रतिद्वंदी वेबसाइटों तक पहुंचने से रोका. गूगल को आने वाले हफ्ते में जुर्माने के तौर पर भारी रकम चुकानी पड़ सकती है.

द वॉल स्ट्रीट का कहना है कि यूरोपीय संघ गूगल को इसके सलाना राजस्व का 10 फीसदी तक जुर्माना भरने को कह सकता है. यह करीब 9 अरब डॉलर के बराबर होती है. साल 2009 में इसी तरह की गतिविधियों के कारण इंटेल कंपनी पर भी जुर्माना लगा था. गूगल के जुर्माने की रकम उससे नौ गुना अधिक है. इंटेल को 1 अरब डॉलर का जुर्माना भरना पड़ा था.

गूगल पर यह जुर्माना यूरोपीय संग की ओर से लगाया जा रहा है. गूगल पर तुलनात्मक खराददारी जैसी गतिविधि में शामिल होने का आरोप है. कंपनी पर आरोप है कि उसने प्रोडक्ट सर्च के रिजल्ट को अपनी सर्विस के पक्ष में प्रभावित करने की कोशिश की है ताकि ग्राहक आखिर में किसी तीसरे पक्ष की बजाय गूगल या इसके पार्टनर से ही ज्यादा से ज्यादा समाना या सेवाएं लें.

यूरोपीय संघ के कॉम्पिटीशन कमिश्नर माग्रेद वेस्टागर की ओर से जुर्माने की रकम वसूली जाएगी. गूगल यूरोपीय संघ के एंटीट्रस्ट जांच के दायरे में भी है. यह मामला गूगल के डिस्पले विज्ञापन के कारोबार और इसके एंड्रॉयड मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम से जुड़ा हुआ है.

Image: © Stefano Garau - Shutterstock.com
आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.