रिलायंस जियो की रफ्तार पर ब्रेक लग रही है

RanuP - 14 जून, 2017 - अपराह्न 12:26 IST बजे

रिलायंस जियो की रफ्तार पर ब्रेक लग रही है

रिलायंस जियो पिछले साल सितंबर में आया और छा गया. पर पिछले महीने से कंपनी की कनेक्शन बिक्री धीमी पड़ती दिख रही है.

(CCM) — रिलायंस जियो की रफ़्तार धीमी पड़ रही है. कंपनी जिस तेजी से नए कस्टमर जोड़ रही थी उसमें कमी आई है. कंपनी ने शुरू के 8 महीनों में 11.2 करोड़ सब्सक्राइबर जोड़ लिए हैं. पर सितंबर के बाद पहली बार ऐसा हुआ कि मासिक नए यूजर्स की संख्या काम हुई है.



टेलीफोन रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया यानि ट्राई के ताजा आंकड़ों के अनुसार अप्रैल में कंपनी ने 39 लाख सब्सक्राइबर जोड़े. यह संख्या अब तक किसी माह विशेष में जोड़े गए ग्राहकों की संख्या की तुलमा में सबसे कम है. हालांकि ये गौर करने की बात है कि सबसे कम होते हुए भी यह अन्य किसी भी टेलिकॉम कंपनी से ज्यादा हैं.

वैसे सितंबर में लांच के बाद कंपनी ने हर महीने लाखों ग्राहक जोड़े. मार्च में यह संख्या 60 लाख थी. पर अप्रैल में यह कम होकर लगभग आधी रह गई. आंकड़ों के अनुसार फरवरी के बाद से यह आंकड़ा लगातार गिर रहा है और अप्रैल लगातार तीसरा महीना है जब कंपनी ने कम ग्राहक जोड़े.

वैसे कंपनी ने मार्च तक फ्री डाटा और फोन कॉल दी थी. उसके बाद कंपनी ने अपनी सर्विस के लिए कुछ रूपए लेना शुरू कर दिया. हालाँकि यह टैरिफ अन्य सभी टेलिकॉम कंपनियों से काफी कम है, फिर भी जियो की नए कनेक्शनों की संख्या लगातार गिर रही है. इसका यह मतलब भी हो सकता है कि जियो पर या तो लोग भरोसा नहीं कर रहे हैं या उनका ग्राहक आधार धीमे धीम खत्म हो रहा है.

ऐसे में संभव है कि अगले एक या दो महीनों में कंपनी कुछ नया प्लान लेकर बाजार में वापसी करे. फिलहाल मार्केट शेयर के मामले में जियो अभी भी काफी पीछे है. एयरटेल के पास 27.65 करोड़ यूजर हैं तो वहीं वोडाफोन के पास 20.87 करोड़ सब्सक्राइबर हैं. आइडिया लिस्ट में नंबर तीन पर है और उनके साथ 19.60 करोड़ यूजर जुड़े हैं.

Photo: © Jio.
आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.