भारत के एटीएम रैनसमवेयर अटैक से सुरक्षित: एक्सपर्ट

RanuP - 16 मई, 2017 - पूर्वाह्न 11:03 IST बजे

भारत के एटीएम रैनसमवेयर अटैक से सुरक्षित: एक्सपर्ट

वाना क्राई नाम के रैनसमवेयर से अब आपके एटीएम सुरक्षित हैं. खबर आई थी कि देश के 80% एटीएम इस साइबर अटैक की चपेट में हैं.

(CCM) —एक रैनसमवेयर अटैक की खबर आई. बाद में पता चला कि भारत भी दुनिया के उन देशों में है जो इसकी चपेट में हैं. बैंकिंग प्रणाली पर काफी असर पड़ा. यह असर इतना रहा कि देश के अधिकतर एटीएम को तत्काल बंद करना पड़ा. पर अब राहत की खबर आई है.

साइबर स्कियोरिटी एक्सपर्ट की मानें तो देश में अधिकांश एटीएम मशीन इस खतरे से बची हुई हैं. दरअसल भारत के 80% एटीएम विंडोज के XP ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलते हैं और एक फर्मवेयर का इस्तेमाल करते हैं. इसी फर्मवेयर की सहायता से मशीन को रिमोट सर्वर से जोड़ कर चलाया जाता है.

पर इस अटैक के बाद मशीन के अधिकांश फंक्शन बंद कर दिए गए हैं. हालांकि कुछ मशीन अभी भी अकाउंट बैलेंस दिखाने के साथ कैश भी डिस्पेंस कर रही हैं.

वैसे वाना क्राई नाम के इस रैनसमवेयर ने दुनिया के 150 देशों के दो लाख से ज्यादा कंप्यूटर सिस्टम को निशाना बनाया है. ये सभी सिस्टम विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम पर चल रहे थे. इस अटैक में आपके सिस्टम को निशाना बनाया जाता है. फ़ाइल, फोटो, और जरूरी दस्तावेज को लॉक कर दिया जाता है और उसको वापस देने के बदले में यह रैनसमवेयर आपसे अच्छे खासे पैसे मांगता है. खबरों के अनुसार यह वर्चुअल करेंसी बिटकॉइन के रूप में पेमेंट मांगता है और इसी के बाद सिस्टम को वापस रीस्टोर किया जा सकेगा.

हालांकि इस अटैक के तुरंत बाद ही माइक्रोसॉफ्ट ने एक स्कियोरिटी पैच लांच करके सिस्टम को सुरक्षित करने का काम शुरू कर दिया है. पर जिसने सिस्टम को अपडेट नहीं किया है उनके कंप्यूटर अभी सुरक्षित नहीं हैं.

अभी तक यह रैनसमवेयर बैंक, अस्पताल, सरकारी एजेंसियों को निशाना बना चुका है. दूसरी तरफ भारत में बैंकों ने भी अपने सिस्टम को अपडेट करना शुरू कर दिया है ताकि वो किसी भी प्रकार के साइबर हमले से सुरक्षित रहें.

Photo: © Ton Snoei - Shutterstock.com
आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.