क्या जकरबर्ग फेसबुक के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर नहीं रहेंगे

RanuP - 8 फ़रवरी, 2017 - पूर्वाह्न 11:15 IST बजे

क्या जकरबर्ग फेसबुक के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर नहीं रहेंगे

फेसबुक संस्थापक जकरबर्ग को कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर समूह से हटाने का प्रस्ताव पेश किया गया है.

(CCM) — बीस साल से भी कम उम्र में फेसबुक की नींव रखने वाले मार्क जकरबर्ग को उसी सोशल मीडिया कंपनी में बोर्ड ऑफ डायरेक्टर समूह से हटाने के लिए एक प्रस्ताव लाया गया है. हालांकि जकरबर्ग के पास इस स्थिति से बचने के लिए काफी शेयर हैं.

दरअसल फेसबुक के अन्य बोर्ड मेंबर उपभोक्ता के अधिकारों की रक्षा करने वाले ग्रुप सम ऑफ अस (SumOfUs) के सदस्य हैं. इन सदस्यों के अनुसार जब किसी कंपनी के सीईओ और बोर्ड ऑफ डायरेक्टर एक ही आदमी हो तो उस संस्था के शेयर होल्डर को नुकसान होता है.

सम ऑफ अस के अनुसार फेसबुक को उसकी कॉरपोरेट सिटीजनशिप को बेहतर करना बहुत जरूरी है. इसके लिए कंज्यूमर वाचडॉग सम ऑफ अस ने 3.33 लाख लोगों से याचिका पर दस्तखत करवाया है. इन लोगों में से 1,500 लोग फेसबुक के शेयरहोल्डर हैं.

हालांकि, जकरबर्ग के पास कंपनी के बहुत सारे शेयर हैं. इतने शेयर की वो आसानी से इस प्रस्ताव को रिजेक्ट कर सकते हैं. बोर्ड ऑफ डायरेक्टर की मीटिंग में भी शायद यही होने वाला है.

पिछले साल फेसबुक ने जकरबर्ग के नेतृत्व में दोगुना से भी ज्यादा तरक्की की. कंपनी का रेवेन्यू दो गुना बढ़ा है. विकासशील देशों में तो कंपनी ने शानदार बिजनेस भी किया है. भारत इनमें से एक देश है. ऐसे में जकरबर्ग के नेतृत्व पर सवाल उठाना जायज भी नहीं है.

जकरबर्ग ने अपनी पत्नी प्रसीलिया चान के साथ मिलकर एक एनजीओ भी शुरू किया है.

Photo: © iStock.
आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.