चेतावनी के बावजूद कॉल ड्रॉपिंग समस्या जस की तस: ट्राई

RanuP शुक्रवार 16 अक्टूबर, 2015 को अपराह्न 015509 बजे

चेतावनी के बावजूद कॉल ड्रॉपिंग समस्या जस की तस: ट्राई

कई चेतावनी के बाद भी दिल्ली एवं मुंबई कॉल-ड्रॉपिंग से निजात नहीं मिल पाई है.

ताजा रिपोर्ट पेश करते हुए टेलीफोन विनियामक प्राधिकरण ट्राई ने बताया कॉल ड्रॉपिंग की समस्या से संतोषजनक निजात भी नही मिली है. दिल्ली एवं मुंबई में टेलीफोन ऑपरेटर कई मानकों फेल हो रहें हैं. एक तरफ जहां टेलिकॉम कंपनियां और सरकार दोनों ही यह बता रहीं हैं कि कॉल ड्रॉपिंग की समस्या काफी हद तक दूर हो गयी है, ट्राई ने इन कंपनियों की पोल खोल दी है.

रिपोर्ट के अनुसार मुंबई में कोई भी कंपनी मानकों पर खरी नहीं उतरी वहीं राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सबसे ज्यादा प्रचलित तीन ऑपरेटर: एयरटेल, वोडाफोन एवं एयरसेल उच्च गुणवत्ता की सर्विस देने में असफल रही हैं.

ट्राई के आंकड़ों के अनुसार दिल्ली में कॉल ड्रॉपिंग की समस्या आइडिया सेलुलर, टाटा टेलीसर्विस पर काफी हद तक बेहतर हुई है. दूसरी और वोडाफोन एवं एयरसेल पर यह समस्या बद से बदतर हुई है, ट्राई ने बताया. “एयरटेल ने अपना प्रदर्शन सुधारने की कोशश की पर मानक से अभी भी बहुत नीचे है.”

वहीं मुंबई में एयरसेल, टाटा एवं आइडिया के नटवर्क में कुछ सुधार तो हुआ पर यह मानक से बहुत नीचे हैं. जबकि वोडाफोन, एयरटेल एवं रिलाइंस (जीएसएम) पर समस्या और गहराती जा रही है.

ट्राई ने पाया की दिल्ली में टाटा एवं मुंबई में एयरटेल ही सही गुणवत्ता की वॉइस क्वालिटी दे पा रहें हैं.

कुछ दिन ही पहले टेलिकॉम मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने मीडिया से बताया था कि कॉल ड्रॉपिंग की समस्या में काफी हद तक सही हो रहा है. अपनी सुचना में प्रसाद ने एयरटेल, एयरसेल, वोडाफोन, आइडिया एवं टाटा जैसे कंपनियों का नाम लेते हुए बताया था की आधी से ज्यादा जगहों पर खामियां दूर की गई है.

Photo: © विंडोज. <signature>(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)