वोडाफोन और आइडिया में विलय संभव

RanuP - 30 जनवरी, 2017 - अपराह्न 03:53 IST बजे

वोडाफोन और आइडिया में विलय संभव

वोडाफोन ने खुलासा किया है की वो भारत में आइडिया सेल्युलर के साथ विलय करने के लिए बात कर रहे हैं.

(CCM) — ब्रिटिश टेलिकॉम कंपनी वोडाफोन ने आज घोषणा की है की वो आदित्य बिरला ग्रुप की आइडिया सेल्युलर से विलय करने के लिए बात कर रहे हैं. भारतीय टेलिकॉम बाजार में यूजर के मामले में वोडाफोन नंबर दो और आइडिया नंबर 3 पर है.

भारत की टॉप 3 टेलिकॉम कम्पनियाँ रिलायंस जियो से लड़ने के लिए हर सम्भव कोशिश कर रही हैं. जियो और डेमोनेटाइजेशन की वजह से एयरटेल को इतिहास में सबसे बड़ा घटा हुआ है. कंपनी के शेयर भी मार्केट में धाड़ाम हो गए हैं. अब वोडाफोन और आइडिया भी जियो से लड़ने के लिए एक साथ हो सकते हैं.

विलय की घोषणा होते ही आइडिया के शेयर मार्केट में उछाल मार रहे हैं. वहीं वोडाफोन के शेयर भी 3 प्रतिशत तक बढ़ गए.

जियो की वजह से मार्केट में कॉम्पटीशन बढ़ा है और इसी वजह से वोडाफोन को पिछले साल अच्छा ख़ासा नुक्सान झेलना पड़ा था. मुकेश अम्बानी की रिलायंस जियो ने सितंबर से ही फ्री कॉल और इंटरनेट देना शुरू किया है. यह ऑफर इस साल मार्च तक चलने वाला है. इस दौरान जियो के कस्टमर अभूतपूर्व तरीके से बढे हैं. जाहिर सी बात है, इस दौरान एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया को भी काम कीमत वाले कॉलिंग एवं इंटरनेट प्लान लांच करने पड़े.

अगर ये दोनों कम्पनियाँ एक साथ आती हैं तो इनका यूजरबेस तो बढ़ेगा ही, पोर्ट कनेक्टिविटी फीस में भी अच्छी बचत होगी. अगर यह विलय सफल हुआ तो दोनों ही कंपनियां जियो से लड़ने के लिए और अच्छे प्लान भी लांच कर सकती हैं.

Photo: © Gil C - Shutterstock.com
आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.

ताजा अपडेट: 30 जनवरी, 2017 को अपराह्न 03:53 बजे RanuP ने किया.