क्या गांव में मिलेगा हर महीने फ्री इंटरनेट

RanuP - 20 दिसम्बर, 2016 - पूर्वाह्न 10:57 IST बजे

क्या गांव में मिलेगा हर महीने फ्री इंटरनेट

भारत की टेलिकॉम रेगुलेटरी बॉडी ट्राई ने सलाह दी है कि ग्रामीण इलाकों में इंटरनेट को प्रोत्साहन देने के लिए कुछ डाटा फ्री दिया जाना चाहिए.

(CCM) — दूरसंचार नियामक प्राधिकरण यानी ट्राई ने सलाह दी है कि देश के ग्रामीण इलाकों में इंटरनेट और डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए सभी टेलिकॉम कंपनियों को ऐसे क्षेत्रों में फ्री डाटा देना चाहिए. इसके लिए फंडिंग की भी बात कही गई है.

ट्राई ने कहा है कि टेलिकॉम कंपनियों द्वारा फ्री डाटा दिया जाने के लिए सरकार को सार्वभौम सेवा दायित्व कोष यानी (यूएसओएफ) से फंडिंग का इंतजाम भी किया जाना चाहिए. ट्राई ने कहा कि ग्रामीण इलाकों के लोगों के लिए इंटरनेट एक एफोर्डेबल सर्विस होनी चाहिए. इससे वो उसका प्रयोग करेंगे और कैशलेस इकॉनोमी की तरफ भी बढ़ेंगे. ऐसे में हर यूजर का प्रति महीने के हिसाब से कुछ न कुछ डाटा जैसे 100 MB इंटरनेट फ्री मिलना चाहिए.

इस योजना को फंडिंग देने के लिए यूएसओएफ कोष का सहारा लिया जाएगा. टेलिकॉम डिपार्टमेंट सभी कंपनियों से एक सेस लेती है जो इसी कोष में जुड़ता है. वैसे यह वही कोष है जिसके माध्यम से ग्रामीण इलाकों में दूरसंचार और इंटरनेट को अधिक बेहतर बनाने के लिए बुनियादी ढांचा तैयार किया जा रहा है.

ट्राई ने कहा कि जब उपभोक्ता को सब्सिडी पर इंटरनेट उपलब्ध कराया जाएगा तो संभव है कि उसकी खपत के बाद यूजर कुछ पैसा देकर डाटा रिचार्ज कराएं. जो एग्रीगेटर फ्री डाटा सर्विस देना चाहिते हैं उनको ट्राई से संपर्क करना चाहिए. ऐसे कंपनियों को इंडियन कम्पनीज एक्ट, 1956 के तहत पंजीकृत होना जरूरी है.

यह रजिट्रेशन पांच साल के लिए वैध होगा. यह पजीकरण किसी भी हालत में किसी और कंपनी को ट्रांसफर नहीं किया जा सकेगा.

ट्राई गांवों और कस्बों में इंटरनेट सर्विस को और बेहतर बनाने के लिए भी योजना तैयार कर रही है. हाई-स्पीड इंटरनेट आने से लोग कैशलेस ट्रांजेक्शन और डिजिटल लेन-देन की तरफ तेजी से बढ़ेंगे.

Photo: © LanKS - Shutterstock.com
आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.