एयरटेल के 4जी वाले ऐड पर रोक के आदेश

Swarnkanta शुक्रवार 2 अक्टूबर, 2015 को अपराह्न 012250 बजे

एयरटेल के 4जी वाले ऐड पर रोक के आदेश

उपभोक्ताओं की शिकायत के बाद एयरटेल को नोटिस जारी कर उसके 4जी विज्ञापन पर रोक लगाने या बदलने का आदेश दिया गया है.

एडवर्टाइजिंग स्‍टैंडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया (एएससीआई) ने नोटिस जारी करते हुए एयरटेल को 7 अक्र्टूबर तक का समय दिया है. एयरटेल पर एएससीआई के 1.4 अध्याय के उल्लंघन का आरोप लगा है.

इस अध्याय में कहा गया है "विज्ञापन मेंं ऐसा कोई स्टेटमेंट या विजुअल प्रेजंटेशन नहीं होना चाहिए जो सीधे या निहितार्थ या चूक या अतिशयोक्ति या अस्पष्ट तरीके से उत्पाद के बारे में उपभोक्ता को भ्रम में रखे."

एयरटेल को जारी किए एक आदेश में भारतीय विज्ञापन मानक परिषद ने कहा, "विज्ञापन में ये दावा किया गया है कि 'एयरटेल 4जी अब तक का सबसे तेज नेटवर्क है' और 'यदि आपका नेटवर्क अधिक तेज हुआ तो हम आपके मोबाइल का जीवन भर का बिल चुकाएंगे'. ये विज्ञापन भ्रामक है क्योंकि प्रिंट, टीवी और होर्डिंग विज्ञापनों में उचित डिस्कलेमर अनुपस्थित है."

एएससीआई ने 7 अक्टूबर तक एयरटेल को अपने विज्ञापन में बदलाव लाने, विज्ञापन अभियान को रोकरने या इसकी समीक्षा करने के लिए कहा है.

एयरटेल ने एएससीआई के आदेश के मिलने की पुष्टि की है और कहा है कि वह फैसले के खिलाफ अपील करने की योजना बना रही है. एयरटेल ने एक बयान जारी करते हुए कहा है, "हम एएससीआई के लिए अपने विज्ञापन के दावे के समर्थन में तकनीकी डाटा जुटा रहे हैं. इसके अलावा हम पूरे मामले की नियत समीक्षा के लिए निर्धारित प्रक्रिया का पालन कर रहे हैं. हमें अनुकूल प्रतिक्रिया का पूरा भरोसा है."

कंपनी का कहना है, "4जी तकनीक दुनिया भर में सबसे तेज इंटरनेट स्पीड देने वाला साबित हो रहा है. भारत में विश्व स्तरीय तकनीक प्रदान करने वाली अकेली कंपनी होने के नाते हमारा विज्ञापन अभियान 4जी के सबसे तेज इंटरनेट स्पीड और फीचर्स का दावा करता है. ये दावे कठोर परीक्षण के आधार पर तैयार किए गए हैं."

Photo: © Airtel India.(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)