दुनिया की पहली सेल्फ-ड्राइविंग टैक्सी लांच

RanuP गुरुवार 25 अगस्त, 2016 को अपराह्न 075758 बजे

 दुनिया की पहली सेल्फ-ड्राइविंग टैक्सी लांच

दुनिया की पहली बिना ड्राइवर वाली टैक्सी सिंगापुर में गुरुवार से चलनी शुरू हो गई है.

(CCM) — पैसे, मुनाफे या लोकप्रियता में भले ही उबर, दीदी, ओला आदि आगे हैं पर सिंगापुर की एक कंपनी ने दुनिया में सबसे पहले बिना ड्राइवर वाली टैक्सी को सडकों पर उतार दी है. गुरुवार को लोगों ने इन टैक्सियों में अपने अनुभव भी शेयर किए.

ख़ास बात यह है कि इस पूरे प्रोग्राम को एक पायलट प्रोजेक्ट के रूप में मात्र 6 सेल्फ-ड्राइविंग कारों के साथ लॉच किया गया है. इनमें मित्सुबिशी ई-MiEVs एवं रेनो Zoes जैसी गाड़ियां भी शामिल हैं. इनको nuTonomy नाम की कंपनी ने ड्राइवरलेस कार में मोडीफाई कर दिया है. फिलहाल ये टैक्सियां पहले से सलेक्ट किए गए पिक-अप एवं ड्रॉपिंग लोकेशन और 2.5-वर्ग मील के इलाके में ही सुविधा दे पाएंगी.

ख़ास बात यह है कि इस ट्रायल प्रोजेक्ट से NuTonomy ने उबर को सिंगापुर के बहुत ही तेजी से बढ़ते टैक्सी एग्रीगेटर मार्केट में अधिकारिक तौर पर मात दे दी है. वहीं उबर ने पहले ही घोषणा कर दी है कि वो इसी महीने अमरीका के पिट्सबर्ग शहर में अपनी बिना ड्राइवर वाली कर की टेस्टिंग शुरू करेगा.

ऊबर आमतौर पर अपने पैसेंजर को टैक्सी असाइन करता है. तो वहीं nuTonomy इन विशेष कारों के परीक्षण के लिए स्थानीय लोगों से ही मदद ले रही है. वो आम लोगों के सेलेक्ट करने पर ही इन ड्राइवरलेस कारों को भेजते हैं. ख़ास बात यह भी है कि nuTonomy की इन कारों में राइड पूरी तरह फ्री है. दी वर्ज में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार राइड के दौरान स्टीयरिंग के पीछे एक एक्सपर्ट ड्राइवर भी बैठाया जा रहा है ताकि किसी भी एमरजेंसी वाली स्थिति में कार को संभाला जा सके. इस साल के अंत तक nuTonomy सिंगापुर के सडकों पर एक दर्जन सेल्फ-ड्राइविंग कार उतार देगा.

nuTonomy के संस्थापक कार्ल आयागनेमा के अनुसार, "जब लोग इस कार में बैठेंगे तो कुछ इसको पसंद करेंगे, कुछ अलग महसूस करेंगे, वहीं कुछ को यह पसंद नहीं आएगी."

पर साल 2018 तक सिंगापुर में nuTonomy की पूरी फ्लीट ही सेल्फ-ड्राइविंग कारों में तब्दील हो चुकी होगी.

Photo: © nuTonomy.
आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.