गूगल की मदद से 500 रेलवे स्टेशन पर होंगे वाईफाई

RanuP सोमवार 28 सितम्बर, 2015 को अपराह्न 025816 बजे

गूगल की मदद से 500 रेलवे स्टेशन पर होंगे वाईफाई

भारत में अगले साल तक 500 रेलवे स्टेशन पर गूगल वाईफाई सुविधा प्रदान करेगा.

सिलिकन वैली में गूगल के हेडक्वॉर्टर में गए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने यह घोषणा कंपनी की भारतीय मूल की सीईओ सुन्दर पिचाई से मुलाकात के बाद की. इस योजना के तहत विश्व की सबसे बड़ी इन्टरनेट कंपनी गूगल सबसे पहले मुंबई में सेन्ट्रल रेलवे के साथ मिलकर भारत में वाईफाई प्रोजेक्ट शुरू करेगी. यह गूगल का अब-तक का सबसे बड़ा वाईफाई प्रोजेक्ट होगा.

इस प्रोजेक्ट के तहत अगले साल तक भारत के छोटे-बड़े 500 स्टेशनों को इंटरनेट से कनेक्ट किया जाएगा. भारतीय प्रधानमंत्री अमेरिका दौरे पर हैं जहां उन्होंने कई बड़ी कंपनियों के सीईओ से मुलाकात की. इसी के तहत वो गूगल के ऑफिस में भी गए जहां उन्होंने नई तकनीकीयों को पास से देखा. इस दौरान उन्होंने गूगल अर्थ पर उनके संसदीय क्षेत्र वाराणसी के घाटों को भी देखा.

मोदी ने गूगल को आम जनता के सरोकार से जुडी ऐप बनाने के लिए बधाई देने के साथ-साथ प्रोत्साहित भी किया. मोदी ने ‘हैकथन’ जिसमे 15 घंटे तक लगातार काम करके भारत के लिए विशेष ऐप बनाई गई, के आयोजन के लिए भी गूगल को शुक्रिया कहा.

मीडिया से बात करते हुए गूगल के सीईओ पिचाई ने बताया की उनकी कंपनी पहले चरण में 100 स्टेशनों पर वाईफाई सुविधा देगी एवं दूसरे चरण में 400 स्टेशनों तक इंटरनेट सुविधा पंहुचेगी. इस मौके पर पिचाई ने अपने उन दिनों को भी याद किया जब वो भारत के आईआईटी के छात्र हुआ करते थे. उन्होंने बताया की चेन्नई से खडगपुर के बीच ढाई करोड़ लोग हर दिन 7500 स्टेशनों से गुजरते हैं.

पिचाई ने बताया की यह वाईफाई सुविधा प्रधानमंत्री मोदी के “डिजिटल इंडिया” प्रोग्राम को साकार करने में मदद करेगा. भारत में रेललाइनों की पूरी लम्बाई धरती से चाँद के बीच की दूरी की दोगुनी है.

इस दौरान पिचाई ने एक एंड्रोइड वर्जन की घोषणा की जिसमे भारत की 11 भाषाएं उपलब्ध होंगी.

Photo: © focusnews.com (आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)