अब हिंदी में मेल आईडी बनाएं

RanuP मंगलवार 2 अगस्त, 2016 को पूर्वाह्न 122943 बजे

अब हिंदी में मेल आईडी बनाएं

अब बहुत जल्द हिंदी एवं अन्य भारतीय भाषाओं में ईमेल एड्रेस बनाए जा सकेंगे.

(CCM) — इलेक्ट्रॉनिक एवं आईटी विभाग ने सोमवार को देश के बड़े ईमेल एड्रेस प्रदाता कंपनियों में शामिल जीमेल, रेडिफ एवं माइक्रोसॉफ्ट के अधिकारियों से मुलाकात करके पूछा कि भारतीय भाषाओं में ईमेल एड्रेस क्यूं नहीं बनाये जा सकते.

खास बात यह है कि इसके जवाब में सभी कंपनियों ने यही बताया कि वे ऐसे किसी भी परिवर्तन के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. मीटिंग में इस ट्रांजिशन को तकनीकी रूप से किस तरह मुमकिन बनाया जाय इस बात पर भी चर्चा की गई. इंटरनेशनल ईमेल फ्रेमवर्क ने पहली ही क्षेत्रीय भाषाओं को सपोर्ट करना शुरू कर दिया है. रेडिफ के प्रमुख तकनीकी अधिकारी वेंकी निस्थाला ने बताया इस पूरी प्रक्रिया में बस इस बात का ख्याल रखना चाहिए कि सरकार इसको एक फरमान की तरह ना घोषित करे.

उन्होंने कहा कि, "हम पहले से ही तैयार हैं. आखिर हमें हिंदी मेल आईडी यूज करने में समस्या थोड़े ही आ रही है?"

वहीं इस सम्बन्ध में और बात करते हुए इलेक्ट्रॉनिक एवं आईटी मंत्रालय के सचिव राजीव बंसल ने कहा कि सरकार अगले कुछ सालों में देश के ढाई लाख ग्राम पंचायत को इंटरनेट के माध्यम से जोड़ना चाहते हैं. इसी के साथ उनको बेसिक इंटरनेट की सुविधा का उपयोग करना भी सिखाया जाएगा. ये सभी लोग अपने क्षेत्रीय भाषा में काम कर सकेंगे. पर इनके लिए अंग्रेजी में काम करना बहुत मुश्किल हो जाएगा. इसी के तहत हिंदी भाषा में ईमेल एड्रेस आना बहुत जरूरी होगा.

अभी तक इस सर्विस को लागू करने में कोई समस्या आती नहीं दिख रही है. सबसे पहले हिंदी भाषा में ईमेल आईडी शुरू होंगे उसके बाद अन्य भाषाओं में भी सर्विस उपलब्ध कराई जायेगी. इस मीटिंग के बाद गूगल एवं माइक्रोसॉफ्ट ने इशारों इशारों में स्पष्ट कर दिया है कि उन्हें हिंदी भाषा में मेल सर्विस देने में कोई दिक्कत नहीं है. गूगल के अनुसार उनके मेल मैकेनिज्म ने दो साल पहले से ही नॉन-लैटिन भाषा पहचानना शुरू कर दिया था.

Photo: © Alexey Boldin - Shutterstock.com
आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.