Pokémon GO की शुरुआत अप्रैल फूल जोक से

RanuP बुधवार 13 जुलाई, 2016 को पूर्वाह्न 111315 बजे

Pokémon GO की शुरुआत अप्रैल फूल जोक से

क्या आपको बता है कि पॉकेमान गो दरअसल बतौर अप्रैल फूल जोक के रूप में दो साल पहले शुरू किया गया था.

(CCM) — दुनिया भर में सफलता के परचल लहराने वाला मोबाइल गेम पॉकेमान गो सबसे पहले बतौर अप्रैल फूल जोक शुरू हुआ था. दरअसल सन 2014 में गूगल ने एक 'पॉकेमान चैलेंज' की शुरुआत की थी.

यह चैलेंज गूगल मैप पर आधारित था जिसमे यूजर को रियलताम मैप में जाकर क्यूट से दिखने वाले कैरेक्टर को खोजकर कैप्चर करना होता था. यह फीचर लगभग एक महीना तक एक्टिव रहा. इस चैलेंज के खत्म होते हर कोई शयद इस फॉर्मेट को भूल गया पर नियंटिक लैब के जॉन हैंक के दिमाग में यह आइडिया घर कर चुका था.

दरअसल नियंटिक लैब उस वक्त गूगल के उस प्रोजेक्ट का हिस्सा थी. कॉन्सेप्ट को जिस तरह सफलता मिलती थी उससे तो यह तय था कि इस पार आगे कुछ नया किया जा सकता है. हैंक ने कंपनी के एशिया पैसिफिक के डायरेक्टर मासाही कावाशिमा से आइडिया डिस्कस किया एवं पूछा कि, "क्या यह रियल दुनिया में चला पाना संभव है?" और इस बात-चीत का परिणाम क्या हुआ वह पॉकेमान गो की सफलता से पता लगाया जा सकता है.

इसने मोबाइल गेमिंग का इतिहास और भविष्य दोनों ही बदल दिया है. यूजर रियल टाइम में अपने घर के आस-पास घूम कर इस गेम का असली आनंद लिया जा सकता है. इस गेम की बढती पॉपुलरिटी में कई लोगों को जेल जाना, एक गेमर की मौत एवं डकैती की कहानी भी शामिल है.
Photo: © Nintendo.
आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.