अब आंखों से ऑपरेट करें स्मार्टफोन

RanuP सोमवार 4 जुलाई, 2016 को पूर्वाह्न 014800 बजे

अब आंखों से ऑपरेट करें स्मार्टफोन

भारत का बेटा ऐसी तकनीक बना रह है जिसकी सहायता से स्मार्टफोन को यूजर की आंखों की हरकत से चलाया जा सकेगा.

(CCM) — एक भारतीय वैज्ञानिक समेत कुछ अंतर्राष्ट्रीय शोधकर्ता एक ऐसी तकनीक को डेवेलप कर रहे हैं स्मार्टफोन की दुनिया में क्रांति ला देगी. इस तकनीक की सहायता से स्मार्टफोन को यूज करने के लिए, कॉल करने, फोटो क्लिक करने के लिए बस आपको आंखों से इशारा करना है.

स्मार्टफोन में एक सेस्नर लगा होगा जो कॉर्निया के साथ सिंक होगा. एक विशेष तरीका से आंखों को हिलाने से उस भाव से जुड़ा फीचर ऑपरेट या एक्टिव हो जाएगा. यानी हों सकता है आंखों को दाएं तरफ ले जाने से फोन में कोई गे खुल जाए और बाएं तरफ ले जाने पर कैमरा ऑन हों जाए.

मेसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नॉलोजी यानी एमआईटी, यूनिवर्सिटी ऑफ जोर्जिया, जर्मनी की मैक्स प्लैंक इंस्टीट्यूट ऑफ इन्फोर्मेटिक्स की एक संयुक्त ने फिलहाल तो एक ऐसा सॉफ्टवेयर बना लिया है जो कोई इंसान कहां देख रहा है, सेन्स कर सकता है. इस सॉफ्टवेयर की एक्यूरेसी मोबाइल फोन में सेंटीमीटर में एवं टैबलेट में 1.7 सेंटीमीटर तक है.

एमआईटी रिव्यू रिपोर्ट के अनुसार यह एक्यूरेसी और बेहतर बनाई जाएगी. इसके लिए एक ऐप बनाई गई है जिसका नाम रखा गया है गेज कैप्चर (GazeCapture). यह ऐप कई सारे लोगों की आंखों को हिलाने का पैटर्न आदि नोट करती है. स्मार्टफोन में लगा फ्रंट कैमरा यह सभी जानकारी फोटो के साथ सेव करता है. यही नहीं, आंखों की बाएं से दाएं एवं दाएं से बाएं मोड़ने की हरकत को भी कैप्चर किया जा सकता है.

इसके द्वारा इकठ्ठा की गई जानकार की सहायता से iTracker नाम के सॉफ्टवेयर को ट्रेनिंग दी जाती है. अभी तक 1,500 लोगों द्वारा गेज कैप्चर का प्रयोग किया जा चुका है. पर इसो बेहतर बनाने के लिए कम से कम 10,000 लोगों का डाटा प्राप्त करना जरुरी है.
Photo: © LDprod - Shutterstock.com
आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.