गूगल स्ट्रीट व्यू को भारत में अनुमति नहीं

RanuP सोमवार 13 जून, 2016 को पूर्वाह्न 124500 बजे

गूगल स्ट्रीट व्यू को भारत में अनुमति नहीं

भारत सरकार ने गूगल की महत्वाकांक्षी योजना गूगल स्ट्रीट व्यू को मान्यता नहीं दी.

(CCM) — भारत सरकार ने गूगल के स्ट्रीट व्यू प्लान को मान्यता देने से मना कर दिया है. इस प्लान में भारतीय शहरों, प्रमुख पर्यटन स्थल, पहाड़ों, झरनों, नदियों आदि को 360 डिग्री पैनोरमा व्यू के साथ दिखाया जाने वाला था. यह व्यू गूगल मैप की ही तरह इंटरनेट पर फ्री में उपलब्ध कराया जाना था.

पिछले सप्ताह गृह मंत्रालय ने गूगल को यह सन्देश भी भेज दिया कि भारत को स्ट्रीट व्यू के माध्यम से कवर करने के प्लान को रिजेक्ट कर दिया गया है.

दरअसल सुरक्षा एजेंसियों ने सरकार को सावधान करते हुए यह दलील दी की ऐसा कोई भी प्रोग्राम या टूल आतंकियों को एक दूसरे 26/11 जैसे हमले को अंजाम देने में मदद कर सकता है. सन 2008 में हुए मुंबई हमले के लिए आतंकियों ने कई महीनों पहले से ही हमले की जगहों की तस्वीरों आदि इकट्ठा करके ही ट्रेनिंग ली थी. अमरीकी-पाकिस्तानी आतंकी डेविड हेडली ने इन तस्वीरों को इकट्ठा करके हमले को अंजाम देने में अहम भूमिका निभाई थी.

ख़बरों के अनुसार सरकार ने यह निर्णय लेने से पहले सुरक्षा एजेंसियों, सेनाओं के वरिष्ट अधिकारियों से सलाह भी ली थी. देश के गृह राज्य मंत्री किरण रिजीजू ने बताया कि जियोस्पेशियल इन्फोर्मेशन रेगुलेशन बिल आने के बाद ऐसे सभी ऐप से जुड़ी समस्या का समाधान हो जाएगा.

एक तरफ जहां गूगल का स्ट्रीट व्यू अमरीका, कनाडा एवं कई यूरोपीय देशों में काफी ज्यादा यूज में लाया जा रहा है वहीं भारत में यह बस कुछ ही दिन एक्टिव रह पाया. प्रायोगिक आधार पर गूगल ने दिल्ली के लाल किले, क़ुतुब मीनार, आगरा के ताजमहल, बनारस के घाट, बिहार की नालंदा यूनिवर्सिटी, मैसूर महल, चेन्नास्वामी स्टेडियम आदि का स्ट्रीट व्यू उपलब्ध कराया था.

Photo: @ iStock.
आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.