वैट रजिस्ट्रेशन के झंझट से बचाएगा यह मोबाइल ऐप

RanuP बुधवार 1 जून, 2016 को पूर्वाह्न 113423 बजे

वैट रजिस्ट्रेशन के झंझट से बचाएगा यह मोबाइल ऐप

दिल्ली के व्यापारियों के लिए वैट सम्बन्धी झंझटों को आसान बनाने के लिए मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने एक मोबाइल ऐप लॉन्च की है.

(CCM) — केजरीवाल ने 'डीवैट एम सेवा' नाम के एक मोबाइल ऐप को लॉन्च किया है जिसके माध्यम से राजधानी क्षेत्र के सभी व्यापारी वैट विभाग में अपना पंजीकरण करा सकते हैं. सरकार ने वैट कर को जमा करने के उत्साह को बढ़ाने के लिए इस ऐप को उतारा है.

इसकी सहायता से व्यापारी बिना समय बर्बाद किए सीधे अपने मोबाइल से ही वैट रजिस्ट्रेशन का झंझट वाला काम बस कुछ मिनट में पूरा कर सकेंगे. इस ऐप को लॉन्च करते वक्त केजरीवाल ने कहा, "इस ऐप से भ्रष्टाचार और इंस्पेक्टर राज खत्म हो जाएगा. मोबाइल ऐप के माध्यम से अब हमारे व्यापारी अपने वैट पंजीकरण के लिए आॅनलाइन आवेदन कर सकते हैं. उन्हें उनके संबंधित विभाग में आवेदन कमा करने के लिए भागदौड़ नहीं करनी होगी. साथ ही वैट इंस्पेक्टर को व्यापारिक परिसर में जाकर निरीक्षण करने की जरूरत नहीं है."

"इस ऐप के जरिए आवेदन के 24 घंटे के अंदर पंजीकरण तय किया जाएगा."

सरकारी आंकड़ों के अनुसार दिल्ली के वैट विभाग के पास लगभग 41,000 आवेदन वेटिंग लिस्ट में पड़े हैं. इस ऐप में माध्यम से अब इन सभी आवेदन का फटाफट निपटारा किया जा सकेगा.

इस मौके पर मुख्मंत्री केजरीवाल ने यह भी कहा कि दिल्ली के व्यापारियों की लिए भाजपा नहीं बल्कि आप आदमी पार्टी ही उनकी भरोसेमंद पार्टी है जो सत्ता में आने के बाद भी उनका पूरा ख्याल रख रही है.

कैसे काम करेगी ऐप

इस ऐप को एंड्रॉयड स्टोर से डाउनलोड करके इंस्टाल करें. इसके बाद अपने व्यापार एवं परिसर की तस्वीर मोबाइल से क्लिक करके इसमें सीधे अपलोड करें. मांगी गई जानकारी भरे. बस हों गया. इस ऐप के साथ ही अब वैट इंस्पेक्टर को व्यापार या व्यापारिक परिसर में जाकर मनमानी करने की जरुरत भी नहीं पड़ेगी. व्यापारियों की मदद के लिए ही दिल्ली का वैट विभाग बहुत जल्द एक हेल्पलाइन नंबर (155055) शुरू करने जा रहा है जहां पर सभी प्रकार की जानकारियां दी जाएंगी.

Photo: © अरविन्द केजरीवाल/फेसबुक पेज.
आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.