ऊबर दिल्ली में अब सरकारी किराया ही वसूलेगा

RanuP सोमवार 23 मई, 2016 को पूर्वाह्न 122857 बजे

ऊबर दिल्ली में अब सरकारी किराया ही वसूलेगा

टैक्सी एग्रीगेटर ऐप ऊबर ने दिल्ली सरकार से कहा कि वो पीक टाइम में किराया नहीं बढ़ाएंगे.

(CCM) — दिल्ली में ऑड-ईवन खत्म होने के तुरंत बाद ही ऊबर एवं ओला ने पीक टाइम चार्ज लेना शुरू कर दिया था. इसकी वजह से टैक्सी का किराया चार गुना तक बढ़ गया था. दिल्ली सरकार की फटकार के बाद ओला ने तो यह चार्ज खत्म कर दिया पर ऊबर ने इस सम्बन्ध में कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया था.

अब लगभग एक महीने बाद ऊबर ने सरकार से कहा कि वो सरकार के बताए रास्ते पर ही चलेगा और ऐसा कोई चार्ज नहीं लेगा जिससे ग्राहकों को परेशानी हो. ऊबर ने आधिकारिक बयान में कहा है कि ग्राहकों से पैसा सरकार द्वारा तय किए गए मानक से अधिक नहीं होगा.

ऊबर के अधिकारी गगन भाटिया ने दिल्ली के ट्रांसपोर्ट कमिश्नर को लिखे एक पत्र में लिखा, “ऊबर द्वारा वसूला गया किराया सरकार द्वारा दिल्ली में तय किए गए किराए से ज्यादा नहीं होगा. हम दिल्लीवासियों के लिए विश्वसनीय एवं अफोर्डेबल कीमत में सुविधा पहुंचाते रहेंगे."

दिल्ली सरकार द्वारा निर्धारित रेटचार्ट के अनुसार इकॉनोमी रेडियो टैक्सी का किराया 12.50 रुपये प्रति किलोमीटर, एसी टैक्सी का किराया 14 रुपए प्रति किलोमीटर है. सेडान रेडियो टैक्सी का किराया 23 रुपए प्रति किलोमीटर है. रात 11 बजे से लेकर सुबह 5 बजे के बीच यात्रा करने पर पूरे किराये का 25 प्रतिशत नाईट चार्ज अलग से देना होता है.

दिल्ली के ट्रांसपोर्ट विभाग के एक अधिकारी ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया, “यह हमारे द्वारा दिल्ली की ऐप पर आधारित टैक्सियों पर की गई कार्रवाई का नतीजा है. हम अब एग्रीगेटर टैक्सी से जुड़ी पॉलिसी बना रहे हैं."

Photo: © iStock.