गूगल मैप ने लांच किया मोटरसाइकिल मोड

Swarnkanta - 5 दिसम्बर, 2017 - अपराह्न 01:10 IST बजे

गूगल मैप ने लांच किया मोटरसाइकिल मोड

गूगल मैप भारतीय बाइकर्स के लिए मोटरसाइकिल मोड यानी टू-व्हीलर मोड फीचर लेकर आया है.

(CCM) —भारत में गूगल ने गूगल मैप में मोटरसाइकिल चलाने वालों के लिए एक नई सुविधा को शामिल किया है. मोटरसाइकिल मोड की मदद से बाइकर्स अपने लिए नेविगेशन चुन सकते हैं. गूगल मैप उन्हें सबसे सटीक रास्ता दिखाएगा जो फोर व्हीलर्स के लिए उपलब्ध नहीं है.



यह सेवा भारत में लाइव हो गई है और अपडेट गूगल मैप में लाया जा रहा है. नई सुविधा एंड्रॉयड के लिए गूगल मैप के 9.67.1 वर्जन के रूप में शामिल किया गया है. अपडेट के बाद भारतीय यूजर्स को यह वॉक एंड ड्राइव ऑप्शन के साथ टू-व्हीलर विकल्प भी मिल जाएगा. यह आमतौर पर नेविगेशन या डायरेक्शन जैसे टैब में शामिल होते हैं.

गूगल मैप का मोटरसाइकिल मोड उन लोगों के लिए फायदेमंद है जो भारत जैसे विकासशील देशों में रहते हैं. क्योकिं यहाँ कई रस्ते ऐसे हैं जो फोर व्हीलर्स के लिए सही नहीं होते हैं. बाईकर्स उन रास्तों का फायदा उठा सकते हैं.

एंड्रॉयड पुलिस वेबसाइट के पन्ने पर भारत में मोटरसाइकिल मोड के साथ गूगल मैप का स्क्रीनशॉट दिख रहा है. फोटो से साफ है कि इससे बाइकर्स को सही रास्ता ढूंढने में मदद मिलेगी. भारत में मोटरसाइकिल पर काम पर जाने वाले लोगों की तादाद बहुत है. साथ ही सारे कई रास्ते ऐसे है जहां आप कार लेकर नहीं चल सकते. ये देखते हुए कहा जा सकता है कि गूगल मैप का ये कदम लोगों के लिए राहत भरा है.

गूगल मैप उन रास्तों को और ETA (एस्टीमेट टाइम ऑफ़ अराइवल) दिखाएगा, जो बाईकर्स के लिए सर्वश्रेष्ठ हैं. ETA का एस्टीमेट उस डाटा के आधार पर किया जाएगा जो बाइकर्स को विशेष रूप से प्राप्त है, डाटा का एस्टीमेट परंपरागत ईटीए डाटा से नहीं लगाया जाएगा जो कि फोर व्हीलर्स के लिए लगाया जाता है. दोनों में एक बड़ा अंतर होता है. क्योंकि बाइकर्स भीड़भाड़ वाले इलाकों में भी कार चालकों की तुलना में अधिक आसानी से ड्राइव कर सकते हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक गूगल के इस फीचर के लिए भारत पहला बाजार है. भारतीय यूजर्स इसका जम कर इस्तेमाल करेंगे. हाल ही में गूगल सीईओ सुंदर पिचई ने कहा था कि गूगल मैप और गूगल के दूसरे प्रोडक्ट को आगे बढ़ाने में भारतीयों का अहम योगदान है.

मोड बाइकर्स को सबसे नजदीकी और आसान रास्तों की जानकारी देता है. इसके अलावा यह भी बताता है कि मंजिल पर पहुंचने के बाद वहां पा्र्किंग की क्या स्थिति है.

Photo: © ArthurStock - Shutterstock.com