2020 तक भारत के 50 करोड़ फोन 'मेड इन इंडिया' होंगे!

Swarnkanta - 14 सितम्बर, 2017 - अपराह्न 02:45 IST बजे

2020 तक भारत के 50 करोड़ फोन 'मेड इन इंडिया' होंगे!

भारत के मोबाइल मार्केट में इन दिनों देश में बने हैंडसेट की संख्या में इजाफा हुआ है. सरकार के अनुसार 2020 तक इनकी संख्या 50 करोड़ तक पहुंच जाएगी.

(CCM) — भारत के मोबाइल मार्केट में इस समय चीनी स्मार्टफोन कंपनियां हावी हैं. विदेशी कंपनियां, जिनमें चाइनीज, कोरियाई कंपनियां शामिल हैं, हर यूजर के बजट को ध्यान रखते हुए हैंडसेट पेश कर रही हैं. लेकिन उम्मीद है 2020 तक भारत में बिकने वाले 50 करोड़ मोबाइल फोन स्वदेशी होंगे.

आईटी मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव अजय कुमार ने एक कार्यक्रम में बताया, "2014 में भारत ने छह करोड़ मोबाइल फोन तैयार किए थे. 2016-17 में यह आंकड़ा 17.5 करोड़ तक चला गया. हम 2019-20 तक 50 करोड़ हैंडसेट का उत्पादन करने की राह पर हैं. देश में बने इन हैंडसेटों में अब उल्लेखनीय रूप से कीमत में इजाफा देखने को मिल रहा है."

यह पहले 10 प्रतिशत था, अब यह 20 प्रतिशत हो गया है. उम्मीद है कि 2020 तक यह 35 प्रतिशत या उससे अधिक होगा.

अजय कुमार ने कहा कि अगले 5 से 10 साल में वैश्विक अर्थव्यवस्था का लगभग 25% डिजिटल अर्थव्यवस्था द्वारा निर्धारित होगा. उनके मुताबिक इंटरनेट सेक्टर भारत में सबसे बड़ा अवसर है और इसमें आईटी इंडस्ट्री में बड़ी इंडस्ट्री बनने की क्षमता है.

कुछ दिनों पहले एनिक्सटा नाम की आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कंपनी और इंटरनेट-मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (आईएएमएआई) ने 'भारतीय मोबाइल फोन बाजार: भारत की डिजिटल अर्थव्यवस्था का सपना पूरा करने के लिए उभरते अवसर' नाम से एक रिपोर्ट भी पेश की थी.

रिपोर्ट में कहा गया था कि आने वाले समय में मोबाइल फोन कंपोनेंट और एक्सेसरीज जैसे, बैटरी पैक, गैर-इलेक्ट्रॉनिक भागों, सहायक उपकरण, पैकेजिंग को घरेलू मार्केट में ही तैयार किया जा सकेगा. हालांकि मुख्य इलेक्ट्रॉनिक कंपोनेंट्स के लिए अभी थोड़ा इंतजार करना होगा.

Photo: © iStock.