एक सही लैपटॉप कैसे खरीदें

अगस्त 2017

लैपटॉप मार्केट में हर दिन नए नए उत्पाद आ रहे हैं. उनका परफॉर्मेंस बढ़ रहा है. जबकि कीमत, वजन और आकार घटता जा रहा है. ऐसे में bold>सही लैटपटॉप को चुनना</bold> काफी कठिन हो गया है.

यदि आपको जल्दी से ए नया लैपटॉप खरीदना है लेकिन आप तय नहीं कर पा रहे हैं कि कौन सा लैपटॉप लें, तो ये लेख आपके बहुत काम का है.

लैपटॉप खरीददारी गाइड

गतिशीलता

लैपटॉप खरीदते समय जिस बात का ध्यान आपको सबसे पहले रखना चाहिए वो है इसकी मोबिलिटी. यदि आपको मोबिलिटी की जरूरत नहीं- तो कहना होगा कि आप अपने मशीन के साथ लगातार गति नहीं कर रहे हैं, यानी इधर-उधर आना-जाना नहीं कर रहे हैं. इसका ये भी मतलब है आप एक ही जगह ज्यादा काम कर रहे हैं. यदि ऐसा है तो आपको छोटा लैपटॉप खरीदने की जरूरत नहीं है. आप एक ऐसा लैपटॉप खरीदिए जिसकी स्क्रीन बड़ी (17 " या 18") हो, अलग से न्यूमेरिक कीबोर्ड हो और बड़ी बैटरी हो ताकि सारे काम आराम से हो जाएं.

यदि आप चाहते हैं कि आपका लैपटॉप वहां वहां जाए जहां जहां आप जाते हैं. और आपको इससे होने वाली परेशानी से कोई दिक्कत नहीं. तो 15.4"-इंच का स्क्रीन ठीक ठाक साइज का होगा और बहुत बोझिल भी नहीं लगेगा. इस तरह के कंप्यूटर का वजन ठीक ठाक होता है. इनमें आमतौर पर आरामदायक कीबोर्ड होता है. मोबाइल मिनी कंप्यूटर बहुत छोटे होते हैं. ये मिनिएचराइज्ड कम्पोनेन्ट उच्च प्रदर्शन वाले 1 किलो से कम वजन के कंप्यूटर होते हैं. इसमें बड़े पीसी वाले सारे गुण होते हैं. आप ऐसे मशीनों को आराम से छोटे बैग में भर सकते हैं और कहीं भी ले जा सकते हैं.

टेक्निकल स्पेसिफिकेशन

प्रोसेसर

सीपीयू किसी कंप्यूटर का सबसे अहम हिस्सा या यूं कहिए कि दिल होता है. कोई मशीन कितना अच्छा काम करती है ये उसके सीपीयू के प्रदर्शन पर निर्भर करता है. आप अलग अलग मीडिया का इस्तेमाल करते हुए जितना ज्यादा भारी भरकम सॉफ्टवेयर और शक्तिशाली ऐप्लिकेशन का प्रयोग करते हैं आपको उतने ही अधिक ताकतवर प्रोसेसर (2.4 Ghz से अधिक फ्रीक्वेंसी) की जरूरत होगी. हालांकि डेस्कटॉप या इंटरनेट इस्तेमाल के लिए आप मध्यम रेंज (2 Ghz के बराबर फ्रीक्वेंसी) के प्रोसेसर को भी इस्तेमाल कर सकते हैं. कंप्यूटर का बेहतर और बिना रोक-टोक इस्तेमाल हो सके इसके लिए ये काफी हैं.

लाइव एक्टिव मेमोरी

इसे हम RAM यानी रैम भी कहते हैं. प्रोसेसर जब डाटा को प्रोसेस करता है उस वक्त यह मेमोरी अस्थायी रूप से डाटा को स्टोर करती है. रैम की क्षमता जितनी अधिक होगी प्रोसेसर भी उतनी ही तेजी से उस डाटा को एक्सेस करेगा जिसे उसे प्रोसेस करना है. 1 GB का RAM इस तरह के काम के लिए न्यूनतम जरूरत मानी जाती है. Vista अच्छी तरह काम करे इसके लिए माइक्रोसॉप्ट 2 GB रैम की सिफारिश करता है. आजकल के अधिकांश लैपटॉप 4 GB वाले RAM के होते हैं.

स्टोरेज स्पेस

आजकल कई ऐसे लैपटॉप आ रहे हैं जो 500 GB स्टोरेज क्षमता वाले हैं. ये अच्छा है. ये जरूरी है कि किसी भी लैपटॉप को खरीदने के पहले हम इस पर अच्छी तरह सोच विचार लें कि हमें कितनी स्टोरेज क्षमता वाला कंप्यूटर चाहिए. हालांकि साइज ही सब कुछ नहीं है. आपको स्टोर हुए डेटा को एक्सेस करने की स्पीड पर भी ध्यान रखना होगा. ऐसा हार्ड ड्राइव जिसकी स्पिनिंग की गति 7200 रेवोल्यूशन/मिनट हो वो 5400 रेवोल्यू/मिनट की क्षमता वाले हार्ड ड्राइव से अधिक ताकतवर होगा. कुछ कंप्यूटर अब फ्लैश और SDRAM मेमोरी ऑफर करते हैं. हार्ड ड्राइव के विपरीत स्टोर करने के इस तरीके में किसी तरह का मेकैनिकल तत्व उपयोग नहीं होता है. इसलिए यह ज्यादा नाजुक नहीं है. हालांकि, यह अधिक महंगा है. फिर भी यह स्टोर करने के लिए बहुत अधिक स्पेस (16 GB तक) ऑफर नहीं करता. और इसकी सर्विस लाइफ भी लिमिटेड है.

ग्राफिक्स कार्ड

यदि आप वीडियो गेम या 3डी एनिमेशन चलाना चाहते हैं तो यह एक महत्वपूर्ण तत्व है. हम आपको ऐसा कार्ड लेने का सुझाव देगें जिसमें वीडियो रैम का 512 MB हो और साथ में पर्याप्त शक्तिशाली ग्राफिक्स प्रोसेसर हो.

कनेक्टिविटी

खरीददारी करने के पहले अपने भावी लैपटॉप के सभी संभावित उपयोग पर एक बार सोच-विचार कर लें. अपने अच्छे प्रदर्शन (क्योंकि यह किसी भी यूएसबी डेटा एक्सचेंज की तुलना में अधिक तेज है) के लिए फायरवायर का अधिक से अधिक प्रयोग हो रहा है. हालांकि यूएसभी पोर्ट लेते समय कंजूसी ना करें. यह एक बार में कई तरह की डिवाइसों को पर्याप्त रूप से जगह देता है. साथ ही, इस बात को भी सुनिश्चित करें कि यदि आप अपने लैपटॉप को टीवी से कनेक्ट करना चाहते हैं तो आपके लैपटॉप में एचडीएमआई हो. कई तरह के काम करने वाला कार्ड रीडर किसी बाहरी कैमरा या मोबाइल फोन से डाटा को ट्रांसफर करने में काफा मददगार होता है.

स्क्रीन

साइज

ऐसे कई लैपटॉप हैं जिनके स्क्रीन 7" से 20" तक हैं. बड़ी स्क्रीन फिल्म देखने के हिसाब से अच्छी होती है. साथ ही गेम खेलने और आराम से काम करने के लिए भी सुविधाजनक होती है. लेकिन बड़ी स्क्रीन वाले लैपटाप 12" या उससे छोटे स्क्रीन वाले लैपटॉप से अधिक वजनदार हो जाती है.

ब्राइटनेस

जहां तक प्रिन्टेड इमेज की बात है आपको मैट्टी या ग्लोसी डिस्पले चुनना चाहिए. बाद वाला वीडियो देखने के हिसाब से बहुत अच्छा है जबकि पहले वाला ग्लेयर के साथ कम सेंसिटिव है.

ऑटोनोमी

यहां हम इस बात को तय करेंगे कि किसी लैपटॉप की बैटरी कितनी लंबी चलेगी यदि वो चार्जर में नहीं लगी है. इसका पता लगाने के लिए, निर्माता के डाटा से जुड़े आंकड़ों पर नजर डालें. लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि उनका अनुमान कई बार निराशाजनक होता है.

यह भी पढ़ें

Swarnkanta ने पब्लिश किया. ताजा अपडेट: 16 जनवरी, 2017 को पूर्वाह्न 10:33 बजे Swarnkanta ने किया.
CCM (in.ccm.net) पर उपलब्ध यह डॉक्युमेंट "एक सही लैपटॉप कैसे खरीदें" क्रिएटिव कॉमन लाइसेंस के तहत उपलब्ध कराया गया है. जैसा कि इस नोट में साफ जाहिर है, आप इस पन्ने को लाइसेंस के तहत दी गई शर्तों के मुताबिक संशोधित और कॉपी कर सकते हैं.