BHIM ऐप कैसे काम करता है?

मार्च 2017

बिना इंटरनेट और स्मार्टफोन के भी डिजिटल पेमेंट करने वाले BHIM ऐप की इन दिनों जोर-शोर से चर्चा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिजिटल लेन-देन को आसान करने और बढ़ावा देने के लिए भीम ऐप शुरू किया है.

भीम ऐप का पूरा नाम 'भारत इंटरफेस फॉर मनी' है. इससे UPI सिस्टम की मदद से पेमेंट किया जा सकता है. भीम आपके फोन नंबर को वेरीफाई करने के लिए आपको फोन कॉल और एसएमएस करता है.

BHIM ऐप कैसे काम करता है

अपने बैंक अकाउंट को BHIM ऐप में रजिस्टर कीजिए. इस बैंक अकाउंट के लिए UPI PIN सेट कीजिए. आपका मोबाइल नंबर आपका पेमेंट ऐड्रेस (PA) होगा. बस हो गया. अब लेन-देन शुरू कीजिए. हां! ये बहुत आसान है.

पैसा भेजना/भुगतान प्राप्त करना: मोबाइन नंबर या पेमेंट ऐड्रेस से अपने दोस्तों, परिजनों और ग्राहकों को पैसा भेज सकते हैं और पैसों का भुगतान पा सकते हैं. आप पैसा IFSC और MMID की मदद से भी गैर UPI सपोर्टेड बैंक में भेज सकते हैं. यदि जरूरत हो तो आप रिक्वेस्ट भेज कर पैसा कलेक्ट कर सकते हैं और रिवर्स पैमेंट भी कर सकते हैं.

बैलेंस चेक: आप जब जरूरत हो अपना बैंक बैलेंस और लेन-देन की पूरी डिटेल चेक कर सकते हैं.

कस्टम पेमेंट ऐड्रेस: आप अपने फोन नंबर के अलावा कस्टम पेमेंट ऐड्रेस भी बना सकते हैं.

QR कोड: पेमेंट ऐड्रेस की फटाफट एंट्री के लिए QR कोड स्कैन कर सकते हैं. जो कारोबारी हैं वो डिस्पले के लिए अपने QR कोड को आसानी से प्रिंट कर सकते हैं.

लेन-देन की सीमा: एक बार के लेन-देन की अधिकतम सीमा 10,000 रुपए और 24 घंटे में लेन-देन की अधिकतम सीमा 20,000 रुपए हैं.

भाषाः यह ऐप हिंदी और अंग्रेजी दोनों में है. इसके अलावा कई और भाषाओं में भी ये जल्द ही आने वाला है!

यह भी पढ़ें

Swarnkanta ने पब्लिश किया.
CCM (in.ccm.net) पर उपलब्ध यह डॉक्युमेंट "BHIM ऐप कैसे काम करता है?" क्रिएटिव कॉमन लाइसेंस के तहत उपलब्ध कराया गया है. जैसा कि इस नोट में साफ जाहिर है, आप इस पन्ने को लाइसेंस के तहत दी गई शर्तों के मुताबिक संशोधित और कॉपी कर सकते हैं.