कनेक्टेड कार और इसकी खूबियां जानें

अक्टूबर 2017

जैसे जैसे स्मार्टफोन का इस्तेमाल बढ़ता जा रहा है, प्रौद्योगिकी कंपनियां दैनिक जीवन की चीजों को इससे कनेक्ट करने के लगातार जुगाड़ में हैं जिससे मोबाइल यूजर्स के रोजमर्रा का जीवन अधिक सरल और आसान हो जाए. पिछले कुछ सालों में, ऑटोमोबाइल सेक्टर ने इंटरनेट ट्रेंड को अपने प्रोडक्ट में शामिल किया है. जैसे कि जीपीएस, वॉयस कमांड और नए मॉडलों में स्थायी इंटरनेट कनेक्शन. इन फीचर को न केवल यात्रियों की सुरक्षा के लिए तैयार किया गया है बल्कि वे यात्रियों को और उत्पादक बनाने में अहम भूमिका निभाते हैं.


कनेक्टेड कार

परिभाषा के अनुसार, कनेक्टेड एक ऐसा ऑटोमोबाइल है जो इंटरनेट एक्सेस और (आमतौर) पर एक वायरलेस लोकल एरिया नेटवर्क (LAN) से लैस होता है. इस कनेक्टिविटी के कारण कार गाड़ी के भीतर या गाड़ी के बाहर दोनों ओर मौजूद दूसरे उपकरणों के साथ इंटरनेट एक्सेस कर सकती है.

जो कार सबसे अधिक कनेक्टेड होते है वे टच स्क्रीन कंप्यूटर, जिसमें कई तरह के ऐप्लिकेशन और फीचर मौजूद होता है और इसे इंफोटेनमेंट सिस्टम के रूप में भी पहचाना जाता है, से लैस होते हैं. यह इन्फॉरमैटिक एन्टरटेन्मेंट सिस्टम ड्राइवर के स्मार्टफोन पर मोबाइल डाटा के साथ काम करता है. और यदि कार वाई-फाई से लैस है तो यह उससे कनेक्ट करता है. इन्फोटेन्मेंट मॉड्यूल्स आईओएस और एंड्रॉयड सहित सबसे आम मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ कम्पैटिबल है.

कनेक्टेड कार की विशेषताएं या फीचर्स

नेविगेशन और जियोलोकेशन

कनेक्टेड कार की सबसे पहली और सबसे महत्वपूर्ण विशेषता है नेविगेशन और जियोलोकेशन तकनीक. जबकि GPS तकनीक (या ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम) को ऑटोमोबाइल्स में इंटीग्रेट किया गया है, इसके अपडेट किए गए डाटा सर्विस की मदद से यूजर ट्रैफिक डाटा, रफ्तार की सीमा और ड्राइवर के रूट (जैसे कि पार्किंग लॉट्स, गैस स्टेशन, दुकानें आदि) में अपनी मनचाही जगहों को मॉनिटर कर सकता है. जियोलोकेशन तकनीक की मदद से ड्राइवर भी स्मार्टफोन ऐप्लिकेशन के जरिए पार्किग स्थल पर आसानी से कार पार्क कर सकते हैं.

ऑन-बोर्ड वाईफाई

मोस्ट कनेक्टेड कार में ऑनबोर्ड वाईफाई या एक ऑनबोर्ड हॉटस्पॉट होता है. इस कनेक्शन से उपयोगी ड्राइविंग ऐप्लिकेशन को बेहतर तरीके से एक्सेस किया जा सकता है. ऑनबोर्ड वाईफाई की मदद से यूजर्स इंटरनेट कनेक्शन को अधिक आसान तरीके से इस्तेमाल कर सकते हैं. इससे कई ऑनबोर्ड मनोरंजक और उत्पाकता से भरपूर विकल्प खुल जाते हैं.

वॉयस कमांड

कनेक्टेड कार का ऑनबोर्ड कंप्यूटर पैसेंजर को बेसिक कॉलिंग और मैसेजिंग फीचर वाले मोबाइल, जो पूरी तरह हैंड-फ्री होता है, की सुविधा देता है. वॉयस कंट्रोल का भला हो कि अब ड्राइवर भी रोड पर से अपना ध्यान हटाए सुरक्षित तरीके से कम्यूनिकेट कर सकते हैं.

डैशबोर्ड इंडिकेटर्स

कनेक्टेड कार ड्राइवर्स को कई प्रकार के डैशबोर्ड इंडिकेटर प्रदान करती हैं. ये ड्राइवर को स्पीड, माइलेज, इंजिन यूज, ईंधन की खपता और CO2 उत्सर्जन पर नजर रखने में मदद करता है.

Image © Martial Red - Shutterstock.com

यह भी पढ़ें

ओरिजिनल आर्टिकल e-claudia ने पब्लिश किया. Swarnkanta ने अनुवाद किया. ताजा अपडेट: 4 सितम्बर, 2017 को अपराह्न 03:15 बजे RanuP ने किया.
CCM (in.ccm.net) पर उपलब्ध यह डॉक्युमेंट "कनेक्टेड कार और इसकी खूबियां जानें" क्रिएटिव कॉमन लाइसेंस के तहत उपलब्ध कराया गया है. जैसा कि इस नोट में साफ जाहिर है, आप इस पन्ने को लाइसेंस के तहत दी गई शर्तों के मुताबिक संशोधित और कॉपी कर सकते हैं.